BijnaurBijnaur: दो बच्चों की माँ भागकर की देवर से शादी, डेढ़ महीने बाद हुआ बड़ा कांड

Bijnaur: उत्तर प्रदेश के बिजनौर से एक हैरान करने वाला मामला सामने आई है। यहाँ प्रेम-प्रसंग के चलते देवर-भाभी ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली है। कुछ दिन पहले दोनों घर से भाग गए थे। इसके चलते दोनों को परिजनों की तरफ से खरी-खोटी सुननी पड़ी। बात जब हद से बाहर हो गई तो आखिर में तंग आकर दोनों ने मौत को गले लगा लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला के घर वालों ने उसका शव लेने से मना कर दिया है। उनका कहना है कि उसने उनके इज्जत को मिट्टी मिला दिया है इसलिए हम उसके शव का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

मिली जानकारी के अनुसार पूरा मामला बिजनौर जिले के नजीबाबाद इलाके का है। जहाँ के रहने वाले डेविड और राखी (युवक के चचेरे भाई की पत्नी) के बिच अवैध सम्बन्ध चल रहा था। लगभग डेढ़ महीने पहले दोनों घर से भाग गए थे। लोकलाज के दर से परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को नहीं दी। लेकिन गांव वाले दबी जुबान में इन दोनों के बारे में बात करते थे। ऐसे में परिजन हमेशा परशान रहते थे जिसके चलते वो राखी और डेविड को कोसते थे।

रोज-रोज के ताने से तंग आकर दोनों ने नजीबाबाद के गढ़मलपुर फ्लाईओवर के पास जहरीला पदार्थ खा लिया। स्थानीय लोगो ने उन्हें बेहोशी की हालत में देखा। उनके मुंह से झाग भी निकल रहा था। इसके बाद स्थानीय लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने दोनों को नजदीकी प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र लेकर गए लेकिन हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया लेकिन अस्पताल में पहुँचाने से पहले ही दोनों दम तोड़ दिया।

इस मामले में सर्किल ऑफिसर देशदीपक सिंह ने बताया कि बुधवार को डेविड और राखी पुल के नीचे बेहोशी कि हालत में मिले थे तत्काल दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहा इलाज के दौरान दोनों कि मौत हो गई। प्रथम दृष्टया ऐसा लग रहा है कि दोनों ने जहर खाया है। फ़िलहाल जाँच पड़ताल चल रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे कार्यवाई की जाएगी। मृतका राखी के दो बच्चे हैं।

शव की तलाशी लेने के बाद उनके पास से मिले आधार कार्ड से दोनों की पहचान हुई। इसके पुलिस ने दोनों के परिजनों घटना की सूचना दी। लेकिन राखी के परिजनों ने अस्पताल आने से इंकार कर दिया। उनका कहना हैं कि जो लड़की उनके इज्जत तार-तार करके चली गई अब हमारा उससे कोई सम्बन्ध नहीं है। राखी के परिजनों ने पुलिस वालों से साफ-साफ कह दिया कि राखी उनके लिए डेढ़ महीने पहले ही मर गई थी।

गांव वालों के अनुसार राखी ने साल साल पहले डेविड के चचेरे भाई से लव मैरिज किया था। शादी से पहले जब दोनों के परिजन शादी के लिए राजी नहीं थे तो दोनों नहर में कूद गए थे। तब दोनों को बचने के बाद शादी कराइ गई। दमपत्ति के दो बेटे हैं जिसमे बड़ा बेटा 7 साल का है और छोटा बेटा 5 साल का है।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी