Bihar Politics, BJP, RJD, Lalu Yadav, Tejashwi Yadav, Salary Cuts, Government Employees, Suicide, bihar government,political news,bihar elections,lalu prasad yadav,politics,bjp vs rjd,rjd chief,bihar news, BJP spokesperson Prabhakar Mishra, Prabhakar Mishra,

BJP on Bihar Politics: लोकसभा चुनाव की तैयारी के बीच नेताओं में तीखी बयानबाजी जारी है। बीजेपी ने इस बीज राजद अध्यक्ष लालू यादव और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। दरअसल, गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में भाजपा प्रवक्ता प्रभाकर मिश्रा जमकर लालू और तेजस्वी पर भड़के। पूछा कि राजद राज में वेतन बंद होने से कर्मचारी क्यों आत्मदाह कर रहे थे? यह सवाल तेजस्वी के बयान- गरीबों के मसीहा बताए जाने पर कहा। प्रभाकर मिश्रा ने आगे कहा कि पहले तेजस्वी उस दौर के प्रदेश की क्या हालत की ये जानकारी ले लेनी चाहिए थी। कहने से कोई मसीहा नहीं बनता।

यह भी पढ़े: Bus Accident: हरियाणा में ईद की छुट्टी के दिन हुआ स्कूल बस हादसा, 6 बच्चों की मौत

दुकानदारों से हफ्ता वसूलते थे..

भाजपा प्रवक्ता प्रभाकर मिश्रा जम कहा कि तेजस्वी के माता-पिता के राज में बिहार के सभी निगमों के करीब 35 हजार कर्मचारियों का 9 साल तक वेतन बंद हो गया था, जिससे करीब 2.45 लाख लोगों के सामने भुखमरी की स्थिति थी। इन कर्मचारियों की सरकार को चिंता नहीं थी। कर्मचारियों को सरकार वेतन देने में सक्षम नहीं थी। कर्मचारी भुखमरी के कारण आत्मदाह कर रहे थे। उन्होंने तेजस्वी से अपने माता-पिता के शासनकाल में बिहार की हालत पर जवाब मांगते हुए कहा कि राजद राज में वेतन बंद होने से कर्मचारी क्यों आत्मदाह कर रहे थे? उस दौर में सरकार अपनी विश्वसनीयता खो चुकी थी। लोगों ने शाम होते ही अपनी बेटियों को घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी थी। उद्योग के रूप में अपहरण चल रहा था, जिसका मुख्यालय सीएम आवास हो गया था।

यह भी पढ़े: Pilibhit Accident: ईद मनाने जा रहे लोगों के साथ हुआ ये दर्दनाक हादसा, हुई 5 की मौत

साथ ही, यह भी कहा कि मुख्यमंत्री के परिवार के लोग फुटपाथ सहित अन्य दुकानदारों से हफ्ता वसूलते थे। उन्होंने तेजस्वी से राजद के उस दौर की जानकारी लेने की सलाह देते हुए कहा कि पहले उस दौर का पता कर लें तब अपने पिता को गरीबों का मसीहा बताएं।

यह भी पढ़े: Akshay Kumar’s Name: मनोरंजन जगत में धोखाधड़ी, अक्षय कुमार का नाम इस्तेमाल कर हुई ठगी

पहले तेजस्वी के किया था हमला

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अगर युवाओं से तेजस्वी को हमदर्दी है तो वे 26 साल में 53 बेशकीमती संपत्तियों के मालिक बनने का तरीका बता दें, सभी युवा उनकी तरह हो जाएंगे। बता दें कि, इस पहले तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर हमला किया था और कहा था कि बिहार में एनडीए की सरकार जितनी नौकरी 17 साल में नहीं दे पाई, उससे ज्यादा मैंने 17 महीनों में दी। तेजस्वी यादव ने मोदी की गारंटी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उनकी गारंटी चाइनीज है, जो चुनाव तक ही है, उसके बाद समाप्त हो जाएगी। हम यहां मोदी सरकार की बात नहीं, मुद्दे की बात करने आए हैं।

यह भी पढ़े: Patna Eid: 30 हजार अकीदतमंदों ने पढ़ी ईद की नमाज, CM नीतीश हुए शामिल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी