Drumstick Benefits, Miracle Drumstick Leaves, Health Benefits, Sahjan Ke Fayde, Nutritional Value, Herbal Remedies, Ayurveda, moringa benefits,drumstick,health is wealth,health tips,moringa,weight loss journey,

Drumstick Benefits: स्वास्थ्य और पोषण हमारे शारीरिक और मानसिक विकास के लिए बेहद जरूरी हैं। अच्छे स्वास्थ्य के लिए सही आहार का काफी महत्व है। खासकर पौष्टिकता से भरपूर आहार हमें स्वस्थ और ऊर्जावान बनाता है। इसके साथ ही, स्वस्थ रहने के लिए प्राकृतिक उपचारों की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है, जो हमें बीमारियों से बचाने और शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करती हैं। इस तरह, एक प्राकृतिक उपचार के रूप में, ड्रमस्टिक पौधे यानी सहजन (drumstick leaves) के पत्तियों का उपयोग स्वास्थ्य के लिए लाभकारी साबित होता है।

यह भी पढ़े: Health Tips: क्या डायबिटीज के मरीज केला खा सकते हैं? जानिए क्या कहते हैं विशेषज्ञ ?

आयुर्वेद में क्या है उपयोग

आयुर्वेद की बात करें तो सहजन का वर्षों से इस्तेमाल किया जा रहा है। केवल इस पौधे की फलियां ही नहीं पत्तियों का भी दवाइयों के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। सहजन की पत्तियां विटामिन, खनिज पदार्थ, एंटीऑक्‍सीडेंट, क्‍लोरोफिल और पूर्ण अमीनो-एसिड का अच्छा स्रोत मानी जाती है। हालांकि इसकी हरी पत्तियों के बजाह सूखी पत्तियां स्वास्थ्य के लिए अधिक असरदार मानी जाती हैं। बरसात में इस पत्तियों का नियमित सेवन करने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है, मोटापा कम होता है, पेट में दर्द और कब्ज जैसी परेशानियों से निजात मिलती है।

सहजन के 5 असरदार चमत्कारी

यह भी पढ़े:Acne: स्वास्थ्य समस्याओं और चेहरे पर मुहांसों में क्या है संबंध? समझें

  1. पोषण से भरपूर: ड्रमस्टिक पत्तियाँ पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फोस्फोरस, आयरन, और विटामिन A, C, और K के अच्छे स्त्रोत हैं। इनमें प्रोटीन और विटामिन B-कॉम्प्लेक्स भी पाया जाता है। विटामिन A की अच्छी मात्रा आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती है।
  2. उपचारकारी गुण: ड्रमस्टिक पत्तियाँ विभिन्न रोगों के इलाज में सहायक होती हैं। इन्हें अस्थमा, एलर्जी, डायबिटीज, हृदय रोग, और कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के उपचार में उपयोगी माना जाता है। पत्तियों में पाया जाने वाला पोटैशियम ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।
  3. पाचन को सुधारे: ड्रमस्टिक पत्तियाँ पाचन को सुधारने में मदद करती हैं, जिससे पाचन प्रक्रिया सुचारू रहती है और भोजन का पोषण अच्छे से होता है।
  4. वजन करें नियंत्रण: इन पत्तियों का सेवन करने से वजन को नियंत्रित किया जा सकता है, क्योंकि ये कम कैलोरी में होते हैं और साथ ही भोजन को संतुलित रखने में मदद करते हैं।
  5. संजीवनी जैसी शक्ति: ड्रमस्टिक पत्तियों में गुणकारी औषधीय गुण होते हैं जो शरीर को ताजगी और ऊर्जा प्रदान करते हैं, और शारीरिक क्षमता को बढ़ाते हैं।
  6. अस्थमा में लाभकारी: ड्रमस्टिक पत्तियों में प्रोटीन, विटामिन C, और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो घावों को ठीक करने और उन्हें भरने में मदद कर सकते हैं। विटामिन C और मैग्नीशियम आस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं और श्वासनली को सुधार सकते हैं।
  7. एंटीबैक्टीरियल गुण: पत्तियों में मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण बैक्टीरिया के खिलाफ लड़ने में मदद कर सकते हैं और शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं।

इन तरह से, ड्रमस्टिक पत्तियों का नियमित सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है।

यह भी पढ़े: Benefits of Papaya: खाली पेट पपीता खाने के 7 बड़े फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी