Fake News

Fake News: उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के सलेमपुर विधानसभा से भाजपा की विधायक और ग्राम्य विकास राज्य मंत्री विजय लक्ष्मी गौतम के सम्बंध में हाल ही में एक विवादित ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस ऑडियो में एक व्यक्ति के रूप में उनकी आपत्तिजनक टिप्पणियाँ सुनाई देती हैं, जिसे सुनकर विभिन्न समुदायों के साथ सम्बंधित विवाद उत्पन्न हो रहे हैं। ऑडियो में बातें मुसलमानों, ठाकुरों, ब्राह्मणों, बनिया और दलित समुदायों के बारे में कही गई हैं।

नाया गया फेक ऑडियो

इस घटना के बाद विजय लक्ष्मी गौतम ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स के माध्यम से स्पष्टीकरण दिया है कि उन्होंने कभी भी ऐसा कुछ नहीं कहा है और यह ऑडियो वायरल होने का कारण एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) द्वारा बनाया गया फेक ऑडियो है। उन्होंने इसे सरकार के बदनाम करने की साजिश माना है और इस बयान के साथ कोतवाली में इस मामले की रिपोर्ट भी करवाई है।

कहा-छवि धूमिल करने की कोशिश…

विजय लक्ष्मी गौतम ने आगे कहा है कि इस घटना के पीछे कुछ लोगों का सक्रिय होना संदेहनीय है, जो उनकी सरकारी छवि को धूमिल करने की कोशिश में लगे हुए हैं। उन्होंने जांच के निर्देश दिए हैं और कहा है कि दोषियों को किसी भी स्थिति में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने इस विवादित ऑडियो को लेकर कोई भी बयान नहीं दिया है और वह इसे पूरी ईमानदारी से जांच करने के लिए पुलिस से सहायता मांग रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि जल्द ही इस गिरोह का पर्दाफाश होगा और जो लोग इसमें शामिल हैं, उन्हें कड़ी सजा होगी।

एक्स पर किया बात साझा

“मैं विजय लक्ष्मी गौतम एक गरीब दलित परिवार की बेटी जो 1996 से भारतीय जनता पार्टी में सक्रिय राजनीति में हूं। निरंतर संघर्ष व आप सभी के सहयोग व आशीर्वाद के उपरांत 2022 में मैं सलेमपुर से भाजपा प्रत्याशी के रूप में विधानसभा चुनाव लड़ी और जीती, मेरे जैसे गरीब बेटी को भारतीय जनता पार्टी वा देवतुल्य जनता के आशीर्वाद ने विधायक बनाया, और राज्यमंत्री जैसा बड़ा पद देकर दलितों का सम्मान बढ़ाया।”

“भारतीय जनता पार्टी ने एक गरीब परिवार की दलित बेटी को जो सम्मान व पद दिया उससे समाज के सभी वर्गों के लोगो को बड़ा हर्ष हुआ, लेकिन कतिपय विरोधियों द्वारा AI (ए०आई० तकनीक यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) की मदद से मेरी आवाज का फर्जी ऑडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है उनके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही हेतु निर्देश दे दिए गए हैं तथा दोषियों की जांच हो रही है।.. यह हमला हम सभी दलितों पर है जिनके लिए मैं निरंतर कार्य कर रही हूं!! इस ऑडियो से मेरा कोई वास्ता नहीं है, इस फेक ऑडियो को वायरल कर सरकार की छवि धूमिल करने अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने का काम किया जा रहा है।”

विजय लक्ष्मी गौतम के इस बयान ने जनता में बड़ी चर्चा का विषय बना है और इस मामले में गहरी जांच की मांग की जा रही है। यहाँ तक कि स्थानीय नेताओं और समुदायिक संगठनों ने भी इस मुद्दे पर अपने निष्कर्ष प्रस्तुत करने की मांग की है।

Treasure Claim: मंदिर में दबे खजाने की खोज में गांववाले, सरकार को लिखा चिट्ठी, दावा- भगवान ने दिखाया सपने में संकेत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी