field fire, wheat, Wheat field, harvest, farm, fire on crop, fire on agriculture land, Fire ,Farmers , Havoc, Agriculture Land Damage, Land Damage, UP, Uttar Pradesh, Mau, Patwai,

Fire on wheat field: उत्तर प्रदेश के मऊ के कोपागंज थाना क्षेत्र के कसारा और रईसा ग्राम सभा में किसानों का लाखों का नुकसान हो गया। मेहनत से खून-पानी एक कर उगाई गई फसल ऐसे जली की सब जलकर खाक हो गया। दरअसल, गेहूं के खेत में शॉर्ट सर्किट से आग लग गयी। दोनों गांवों में लगी आग से 20-25 बीघा गेहूं जलकर राख हो गया। गांव वालों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फायर ब्रिगेड पहुंचने के बाद भी रास्ता न होने से मौके पर नही पहुंच सका। पीड़ितों ने राजस्व विभाग को सूचना दी। मौके पर पहुंचे हल्का लेखपाल ने फसलों के जलने का जायजा लिया। जानकारी के मुताबिक, क्षेत्र के ग्राम सभा कसारा में 15 बीघा और रईसा में लगभग 5 बीघा जल गया।

कैसे लगी आग

रविवार की सुबह में शॉर्ट सर्किट हुआ फिर देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले ली। एक समय आग बेकाबू हो गई।किसानों की 25 बीघा गेंहू की फसल जलकर राख हो गई। ग्रामीणों ने जानकारी दी कि फायर ब्रिगेड की गाड़ी घटों के बाद पहुँची, लेकिन रास्ते न होने की वजह से खेतों तक नहीं पहुंत पाई। जिसकी वजह से किसानों के खेत सही समय पर बच नहीं पाये। काफी मेहनत के बाद ग्रामीणों ने बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पाया। लेकिन तब तक किसानों के लगभग 25 बीधा गेंहू की फसल जलकर खाक हो गई थी।

यह भी पढ़े: Agra: तीन बच्चो के बाद पति चाहता था एक और बेटा, पत्नी ने उठाया ये कदम

कसारा और रईसा के किसान जंग बहादुर यादव, चंद्रभान यादव, जगदीश राय, आनंद यादव, हंसनाथ यादव, कैलाश यादव, अवधेष यादव, हरि किसुन यादव, प्रभुनाथ यादव, रामभवन यादव सहित 2 दर्जन किसानों की गेंहू की फसल जलकर नष्ट हो गई।

पटवाई थाने से भी आग जलने की खबर

पटवाई थाना क्षेत्र के जनकपुर गांव में भी बिजली की लाइन से लगी आग की चिंगारी से गेहूं की 60 बीघा फसल जल कर राख हो गई। खेतों में आग की लपटे काफी विकराल दिखाई दे रही थी। फसलों के जल जाने के बाद किसानों का बुरा हाल है।

जनकपुर के निवासी जोगिंद्र सिंह ने बताया कि उसके खेतों में गेहूं की फसल खड़ी थी। फसल पूरी तरह पक चुकी थी। फसलों को काटने की तैयारी की जा रही थी। लेकिन रविवार को दोपहर एक बजे करीब जब कंबाइन मशीन ने गेंहू काटने शुरू किए तो खेत के पास से होकर गुजर रही बिजली लाइंन से आग की चिंगारी फसल में गिरी। जिसके कारण गेहूं की फसल को आग की चपेट चली गई।

यह भी पढ़े: Agra Molestation: पति को पास न देख की अमेरिकी महिला के साथ छेड़छाड़, ऐसे गाइड से शर्मसार भारत

आग बूझाने के लिए चलाई ट्रैक्टर

अचानक खेत में जलती आग देखकर, जोगिंद्र सिंह ने खड़ी ट्रैक्टर -ट्राली को खेत में दौड़ाना शुरू किया। लेकिन इससे भी आग नहीं बूझी। देखते-देखते अन्य ग्रामीण भी चार ट्रैक्टर लेकर खेत पर पहुंचे। सभी ने पक्की हुई गेंहू की फसल को जोत दिया। तब जाकर आग पर काबू पाया गया। आग को बूझाते-बूझाते खेत की मालिक जोगिंद्र सिंह भी आग की चपेट में आ गए। किसानों ने इस बात की जानकारी जिला प्रशासन को दी। साथ ही, मुआवजे की मांग की है।

यह भी पढ़े: Mukhtar Ansari के बाद क्या बदल पायेगा उत्तर प्रदेश की सियासत, जानें कहां-कहां है अंसारी के परिवार की पकड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी