Hyderabad

Hyderabad: तेलंगाना भाजपा ने एआईएमआईएम के अकबरुद्दीन औवेसी को राज्य विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किये जाने पर आपत्ति जताते हुए आज नवनिर्वाचित विधायकों के शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार किया। प्रोटेम स्पीकर को नए विधायकों को शपथ दिलाने का काम सौंपा गया है।

पिछले महीने हुए विधानसभा चुनाव में गोशामहल से जीतने वाले भाजपा विधायक टी राजा सिंह ने एक वीडियो संदेश में कहा कि वह “जब तक जीवित हैं” एआईएमआईएम के सामने कभी शपथ नहीं लेंगे। उन्होंने कहा कि पूर्णकालिक अध्यक्ष नियुक्त होने के बाद ही वह शपथ लेंगे।

उन्होंने पूछा, “क्या मैं उस व्यक्ति (अकबरुद्दीन औवेसी) के सामने शपथ ले सकता हूं जिसने अतीत में हिंदू विरोधी टिप्पणियां की थीं।”

यह भी पढ़ें:- Aligarh UP: पुलिसकर्मी ने पुलिस स्टेशन के अंदर महिला के सिर में मारी गोली

पिछले महीने हुए चुनाव में बीजेपी ने आठ सीटें जीती थीं. पार्टी की राज्य इकाई के प्रमुख जी किशन रेड्डी ने कहा कि भाजपा अकबरुद्दीन औवेसी की नियुक्ति के खिलाफ है क्योंकि यह वरिष्ठ विधायकों को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करने की परंपरा के खिलाफ है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “भाजपा विधायक इस प्रोटेम स्पीकर के समक्ष शपथ लेने का बहिष्कार करेंगे। हमारे विधायक स्पीकर नियुक्त होने के बाद शपथ लेंगे। हम ऐसी पार्टी (एआईएमआईएम) के साथ कभी गठबंधन नहीं करेंगे। हम इस पर राज्यपाल के पास जाएंगे।”

राजा सिंह ने 2018 में भी शपथ लेने से इनकार कर दिया था क्योंकि तब नियुक्त प्रोटेम स्पीकर भी AIMIM से था।

अकबरुद्दीन औवेसी के शनिवार को प्रोटेम स्पीकर के रूप में शपथ लेने और फिर आज निर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाने की उम्मीद थी।

टी राजा सिंह ने आरोप लगाया कि तेलंगाना के नए मुख्यमंत्री कांग्रेस के रेवंत रेड्डी अपने पूर्ववर्ती के.चंद्रशेखर राव की तरह एआईएमआईएम से डरते हैं, और इसीलिए उन्होंने औवेसी को प्रोटेम स्पीकर बनने की अनुमति दी है।

यह भी पढ़ें:- Khaushambi UP: बारात आने से पहले ही प्रेमी संग फरार हुई दुल्हन, मदिर में रचाई शादी

प्रोटोकॉल के मुताबिक विधानसभा में सबसे वरिष्ठ विधायक को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाता है. ओवैसी छठी बार चंद्रयानगुट्टा निर्वाचन क्षेत्र से विधानसभा (संयुक्त आंध्र विधानसभा सहित) के लिए चुने गए।

हालाँकि, टी राजा सिंह ने दावा किया कि कई वरिष्ठ विधायक हैं जिन्हें प्रोटेम स्पीकर बनाया जा सकता था, लेकिन नए मुख्यमंत्री अल्पसंख्यकों और एआईएमआईएम नेताओं को खुश करने की कोशिश कर रहे थे। Hyderabad

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी