Jharkhand ED Raid

Jharkhand ED Raid: लोकसभा चुनाव के बीच झारखंड में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही है। आज यानी 7 मई को डोरंडा इलाके में रहने वाले कॉन्ट्रैक्टर राजीव कुमार सिंह के ठिकाने पर भी रेड पड़ी है। इस छापेमारी में ED ने ठेकेदार राजीव कुमार सिंह से डेढ़ करोड़ रुपए बरामद किए। बताया जा रहा है कि कैश हेराफेरी में उसके जरिए 10 करोड़ से ज्यादा की रकम उड़ाई गई थी। यह छापेमारी सुबह पांच बजे से ही चल रही है। इस छापेमारी के दायरे में बिल्डर और कॉन्ट्रैक्टर आए हैं।

वीरेंद्र राम मामले में ईडी ने 6 मई को रांची में कई ठिकानों पर छापेमारी शुरू की थी। ईडी ने कुछ योजनाओं के कार्यान्वयन में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फरवरी 2023 में झारखंड ग्रामीण विकास विभाग के मुख्य अभियंता वीरेंद्र राम को गिरफ्तार किया था।

सात जगहों पर जारी है छापेमारी

बताया जा रहा है कि मंगलवार की सुबह से ED कार्रवाई में लगी हुई है। छापेमारी की यह कार्रवाई शहर के अलग-अलग सात जगहों पर चल रही है। जिन ठिकानों पर छापेमारी चल रही है, वह सिंह मोड़ के पास रहने वाले एक बिल्डर के साथ-साथ रांची के रातू और आईटीआई बस स्टैंड के पास रहने वाले दो बिल्डरों के यहां है। इसके अतिरिक्त कई दूसरे जगहों पर भी छापेमारी चल रही है।

कल भी हुई थी छेपेमारी

एक दिन पहले झारखंड के मंत्री आलमगीर आलम के सचिव से कथित रूप से जुड़े एक घरेलू सहायक के कई परिसर की तलाशी के दौरान 35.23 करोड़ रुपये की ‘बेहिसाबी’ नकदी और कई आधिकारिक दस्तावेज बरामद करने का दावा किया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मंत्री से जुड़े स्थान से 32 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी जब्त की गई वहीं केंद्रीय एजेंसी ने कुछ अन्य परिसर में की गई तलाशी में अलग से तीन करोड़ रुपये से अधिक की नकदी बरामद की।

मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा है मामला

ईडी ने कुछ योजनाओं के कार्यान्वयन में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फरवरी 2023 में झारखंड ग्रामीण विकास विभाग के मुख्य अभियंता वीरेंद्र के. राम को गिरफ्तार किया था। वहीं इस मामले पर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने झारखंड सरकार के मंत्री आलमगीर आलम पर निशाना साधते हुए कहा, ‘यह आलमगीर आलम का पैसा है, किसी दूसरे का नहीं है और गिनती 50 करोड़ से ऊपर की होगी। हेमंत सोरेन जेल में हैं, ये सिंडिकेट क्राइम है। ये बांग्लादेशियों को बुलाकर यहां की डेमोग्राफी बदल रहे हैं। झारखंड में अब राष्ट्रपति शासन के अलावा कोई और चारा नहीं है। सांसद संजय सेठ ने कहा कि मंत्री को तुरंत गिरफ्तार करना चाहिए। ईडी के अधिकारियों से कहना चाहता हूं की मंत्री को बर्खास्त कर तत्काल गिरफ्तार करना चाहिए। चुनाव आयोग से इस संबंध में शिकायत दर्ज कर करवाई की मांग है।

ये भी पढ़े: Jharkhand News: मंडल डैम का मुद्दा गरमाया, आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी