MP BJP Candidate List, Lok Sabha Election, Pragya Thakur, Madhya Pradesh Politics, shivraj singh Chauhan,

Lok Sabha Election: मध्य प्रदेश भाजपा ने शनिवार को अपनी 195 उम्मीदवारों की सूची घोषित की, जिसमें 24 सीटों के लिए 29 उम्मीदवारों का चयन किया गया है। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को टिकट मिला है, जबकि भोपाल सीट पर प्रज्ञा सिंह ठाकुर की जगह दूसरे उम्मीदवार को चयन किया गया है।

भाजपा, जो 2019 में 28 सीटें जीतकर अपने रिकॉर्ड को बनाए रखना चाहती है, इस बार भी प्रमुख चुनाव सीटों पर अपने अच्छे उम्मीदवारों को लेकर आगे बढ़ने का प्रयास कर रही है। इस सूची में प्रज्ञा सिंह ठाकुर को छोड़कर और कई सांसदों को बाहर रखकर नए चेहरों को भी मौका मिला है।

शिवराज सिंह चौहान, जो पहले गुना से उम्मीदवार थे, अब विदिशा से चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा, “मैं उनका आभारी हूं केंद्रीय नेतृत्व, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।”

पूर्व मुख्यमंत्री, जिन्होंने 1996 से 2005 के बीच पांच बार सीट जीती, ने विदिशा के लोगों के साथ अपना गहरा जुड़ाव बताते हुए कहा कि वह उनके लिए परिवार की तरह हैं और उन्हें पूरा यकीन है कि भाजपा राज्य की सभी 29 सीटों पर जीत हासिल करेगी। विदिशा सीट को भाजपा के गढ़ में से एक माना जाता है और इसे 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और 2009 और 2014 में पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने जीता था।

केंद्रीय मंत्री और पूर्व कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को गुना से उम्मीदवार बनाया गया है, जो पिछले चुनावों में भाजपा के कृष्ण पाल सिंह यादव से हार गए थे। सूची में और भी कई पुराने विधायकों और नेताओं को जगह मिली है, जिनमें चार वफादार, पूर्व महापौर, और महिला आयोग के पूर्व अध्यक्ष शामिल हैं। इसके साथ ही, कई युवा नेता भी चयन हुए हैं, जिन्हें भाजपा चुनावी युद्ध में अग्रणी बनाना चाहती है।

इसमें से एक महत्वपूर्ण बात यह है कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर को इस बार टिकट नहीं मिला है, जो विवादास्पद रही है। ठाकुर ने भोपाल से सांसद के रूप में कार्य किया था और उन्होंने विवादों में अपनी बढ़ती हुई छवि के बावजूद इस बार उन्हें टिकट नहीं मिला। उनकी जगह एक अन्य उम्मीदवार को चयन किया गया है।

भाजपा ने इस सूची में एक सांसद को छोड़कर अन्य सभी मौजूदा सांसदों को टिकट दिया है, जो चुनावों में फिर से लड़ेंगे। यह दिखाता है कि पार्टी अपनी विधायकों की चयन में सावधानी बरत रही है और नए और युवा नेताओं को मौका दे रही है।

इस चयन में ओबीसी समुदाय, ब्राह्मण, और महिला नेताओं को ध्यान में रखते हुए पार्टी ने एक संतुलित और विविध सूची बनाई है। भाजपा ने यह भी दिखाया है कि वह विभिन्न सामाजिक वर्गों के लोगों को समर्थन देने के लिए तैयार है और उन्हें पार्टी में शामिल करने का मौका देना चाहती है।

मध्य प्रदेश में भाजपा की इस उम्मीदवार सूची का मकसद स्थानीय नेताओं को समर्थन और पार्टी की नई ऊर्जा को सांसदीय चुनौती में शामिल करना है। यह सूची भाजपा के चुनावी अभियान को मजबूती प्रदान कर सकती है और पार्टी को राज्य के प्रति लोगों के विश्वास को बनाए रखने में मदद कर सकती है।

यह भी पढ़ें: Election 2024: भारत में नई राजनीतिक यात्रा की शुरुआत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी