PM Narendra Modi ने किया पोर्ट ब्लेयर के वीर सावरकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नए टर्मिनल का उद्घाटन, देखें तस्वीरेंPM Narendra Modi ने किया पोर्ट ब्लेयर के वीर सावरकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नए टर्मिनल का उद्घाटन, देखें तस्वीरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मंगलवार को पोर्ट ब्लेयर (Port Blair) के वीर सावरकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Veer Savarkar International Airport) के नए टर्मिनल (terminal) का वर्चुअली उद्घाटन (Inauguration) किया। 710 करोड़ की लागत से बनाया गए इस टर्मिनल में एक साथ 10 प्लेन पार्क हो सकेंगे। इसका डिजाइन शंख (shell) के आकार की संरचना जैसा है। प्रधानमंत्री ने यहां मौजूद लोगों को संबोधित किया। उन्होंन इस प्रोजेक्ट के फायदे गिनाए फिर बेंगलुरु (Bangalore) में विपक्षी दलों की हो रही बैठक पर भी अपनी बातें रखीं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि बेंगलुरु में 2024 लोकसभा चुनाव के लिए 26 दल इकट्‌ठा हुए हैं। देश की जनता कह रही है कि ये तो कट्टर भ्रष्टाचारी सम्मेलन हो रहा है। इनका लेबल कुछ और है और प्रोडक्ट कुछ और। इनका एक ही एजेंडा है- न खाता न बही, जो परिवार कहे वही सही। देश की जनता इनसे सतर्क रहे।

पीएम की स्पीच की मुख्य बातें…

  • बेंगलुरु में हो रही 26 विपक्षी दलों की बैठक को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी दुकान में भ्रष्टाचार की गारंटी है। इसमें जेल जाने वालों को खास न्योता भेजा गया है। विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम ने कुछ लाइनें भी पढ़ी। पीएम ने कहा कि ये लोग देश के लोकतंत्र और संविधान को अपना बंधक बनाना चाहते हैं। इनके लिए मैं ये ही कहना चाहूंगा-नफरत है घोटाले हैं, तुष्टीकरण है मन काले हैं, परिवारवाद की आग के दशकों से देश हवाले है।
  • पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज देश की जनता ने तय कर लिया है कि हमें 2024 में वापस लाना है। इसलिए जो लोग भारत की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार हैं, उन्होंने अपनी दुकानें खोल ली हैं। 24 के लिए 26 होने वाले राजनीतिक दलों पर यह बड़ा फिट बैठता है। ये गाना तो कोई और गा रहे हैं लेकिन हकीकत कुछ और है। लेबल किसी और चीज का लगा है लेकिन प्रोडक्ट किसी और का है। इनकी दुकानों पर जातिवाद का जहर और जबरदस्त भ्रष्टाचार की गारंटी है।
  • विपक्षी एकजुटता को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि इनका सिर्फ एक एजेंडा है, परिवार बचाओ और भ्रष्टाचार बढ़ाओ। उनके लिए परिवार पहले, देश बाद में है। न खाता न बही, जो परिवार कहे वही सही। लोकतंत्र लोगों का, लोगों द्वारा और लोगों के लिए होता है। लेकिन वंशवादी राजनीतिक दलों के लिए, सबकुछ परिवार का है, परिवार द्वारा है और परिवार के लिए है। देश वंशवादी राजनीति की आग का शिकार है।
  • पीएम ने विपक्षी दलों के घोटाले को लेकर कहा, ये जो जमात इकट्ठी हुई है, उनके कुनबे में बड़े से बड़े घोटालों पर, अपराधों पर इनकी जुबान बंद हो जाती है। जब किसी एक राज्य में इनके कुशासन की पोल खुलती है, तो दूसरे राज्यों के ये लोग फौरन उसके बचाव में तर्क देने लगते हैं। पश्चिम बंगाल में हुए पंचायत चुनाव में सरेआम हिंसा हुई, लगातार खून-खराबा हो रहा है, इस पर कोई नहीं बोला।

एयरपोर्ट को दी गई शंख के आकार की संरचना

रिपोर्ट के मुताबिक, नए टर्मिनल का डिजाइन प्रकृति से प्रेरित है, जो कि डिजाइन में समुद्र और द्वीपों को दर्शाती एक शंख के आकार की संरचना जैसा दिखता है।

नया टर्मिनल 40,800 वर्ग मीटर में बना है

यह टर्मिनल लगभग 40,800 वर्ग मीटर में बना है। ये सालाना लगभग 50 लाख पैसेंजर को संभालने में सक्षम है। पूरे टर्मिनल में रोजाना 12 घंटे के लिए 100 प्रतिशत नेचुरल लाइट होगी, जो छत पर लगे रोशनदानों से मिलेगी। इसकी बिल्डिंग में 28 चेक-इन काउंटर, तीन यात्री बोर्डिंग ब्रिज और चार कन्वेयर बेल्ट हैं।

10 प्लेन पार्क करने की कैपेसिटी

पोर्ट ब्लेयर एयरपोर्ट पर 80 करोड़ रुपए की लागत से दो बोइंग-767-400 और दो एयरबस-321 जैसे प्लेन के लिए पार्किंग एरिया का कंस्ट्रक्शन किया गया है। इससे एयरपोर्ट पर अब एक समय में 10 प्लेन पार्क हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी