Sugar for health, Sugar consumption, Health implications of sugar, Effects of sugar on the body, Sugar and wellness, Nutrition, sugar intake, Nutrition and sugar intake Sugar and disease risk, Sugar, disease risk, Healthy sugar alternatives, Balanced diet and sugar, Sugar metabolism, Sugar-related health conditions,

Sugar for health: चीनी का सेवन स्वास्थ्य विशेषज्ञों के बीच एक चर्चित विषय है। जबकि चीनी शीघ्र ऊर्जा प्रदान करती है, अत्यधिक सेवन से विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। यहाँ चीनी का सेवन क्यों महत्वपूर्ण है और विशेषज्ञों की क्या राय है, उसके बारे में है:

ऊर्जा स्रोत

चीनी, जैसे कि ग्लूकोज के रूप में, हमारे शरीर का प्रमुख ऊर्जा स्रोत है। यह हमारे कोशिकाओं को ऊर्जा प्रदान करता है, जिसमें दिमाग, पेशियों, और अंगों की कोशिकाएं शामिल हैं, हमें दैनिक गतिविधियों के लिए आवश्यक ऊर्जा प्रदान करता है।

मध्यमता

विशेषज्ञों को चीनी को मध्यम में सेवन करने का महत्व बताया जाता है। अत्यधिक चीनी का सेवन वजन बढ़ने, मोटापा, और संबंधित स्वास्थ्य समस्याओं जैसे टाइप 2 डायबिटीज और हृदय रोग का कारण बन सकता है।

अतिरिक्त चीनी बनाम स्वाभाविक रूप से पायी जाने वाली चीनी

अतिरिक्त चीनी (जैसे कि मिठाई, प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों, और मिठाई आदि में पायी जाती है) और स्वाभाविक रूप से पायी जाने वाली चीनी (जैसे कि फल, सब्जियाँ, और डेयरी उत्पादों में पायी जाती है) के बीच अंतर करना महत्वपूर्ण है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ अतिरिक्त चीनी के सेवन को सीमित करने की सलाह देते हैं जबकि स्वाभाविक रूप से पायी जाने वाली चीनी युक्त खाद्य पदार्थों का आनंद लेने की सलाह देते हैं, जो अक्सर फाइबर, विटामिन, और खनिजों जैसे अतिरिक्त पोषक तत्वों के साथ आते हैं।

यह भी पढ़े: Benefits of Sattu: शरीर में ठंडक से लेकर वजन घटाने में असरदार, जानें गर्मियों में सत्तू पीने के फायदे

स्वास्थ्य जोखिम

अधिक चीनी का सेवन कई स्वास्थ्य जोखिमों से जुड़ा है, जैसे कि मोटापा, टाइप 2 डायबिटीज, हृदय रोग, फैटी लिवर रोग, और डेंटल कैविटी। अतिरिक्त चीनी का सेवन शरीर में सूजन को बढ़ा सकता है, जो कई क्रोनिक रोगों से जुड़ा है।

पोषण मूल्य

अतिरिक्त चीनी में उच्च खाद्य पदार्थों में आवश्यक पोषक तत्वों की कमी होती है। मिठाई और पेय का सेवन करने से पोषक तत्वों के साथ स्वाभाविक रूप से पायी जाने वाली चीनी युक्त खाद्य पदार्थों को छोड़ने के नतीजे में, महत्वपूर्ण विटामिन और खनिजों की कमी हो सकती है।

आहारी दिशानिर्देश

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और अमेरिकी हार्ट एसोसिएशन (AHA) जैसी कई स्वास्थ्य संगठन चीनी के सेवन के लिए दिशानिर्देश प्रदान करते हैं। इन दिशानिर्देशों में आमतौर पर अतिरिक्त चीनी के सेवन को दैनिक कैलोरी के कुल मात्रा का निर्दिष्ट प्रतिशत में सीमित करने की सलाह दी जाती है। उदाहरण के लिए, AHA यह सुझाव देता है कि महिलाएं दिन में 100 कैलोरी (लगभग 6 चमच) अतिरिक्त चीनी का सेवन करें, जबकि पुरुषों को दिन में 150 कैलोरी (लगभग 9 चमच) तक का सीमित करना चाहिए।

यह भी पढ़े: Salt for Health: स्वस्थ हृदय के लिए आपको कितना नमक खाना चाहिए?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी