Swati Maliwal assault case

Swati Maliwal assault case: आम आदमी पार्टी (AAP) की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) के साथ दिल्ली के सीएम हाउस में हुए कथित बदसलूकी और मारपीट के मामले में शनिवार केजरीवाल के पीए बिभव कुमार (Bibhav Kumar) को सीएम आवास से गिरफ्तार किया गया। स्वाति मालीवाल ने CM अरविंद केजरीवाल के पीए बिभव कुमार पर अभद्रता और मारपीट का संगीन आरोप लगाया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली पुलिस को जानकारी थी कि अरविंद केजरीवाल का पीए सीएम आवास में ही है। थोड़ी देर में कुमार को तीस हजारी कोर्ट में पेश किये जाने की उम्मीद है।

स्वाति ने की थी FIR दर्ज

बता दें कि इस मामले में FIR भी दर्ज कराई गई है। इसका एक वीडियो भी शुक्रवार को सामने आया था। वीडियो दिल्ली सीएम हाउस का है। जिसके बाद दिल्ली पुलिस शुक्रवार शाम को CM अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के घर पहुंची और सीन रीक्रिएट किया। इधर, आम आदमी पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्वाति मालीवाल के आरोपों को गलत बताया। इतना ही नहीं, पूरे मामले को BJP की साजिश बताया। दूसरी ओर, बिभव कुमार ने इस मामले में देर शाम क्रॉस FIR दर्ज कराई।

बिभव ने मेल कर सहयोग का दिया आश्वासन

बिभव कुमार ने शनिवार सुबह दिल्ली पुलिस को मेल के जरिए लिखा था कि वह किसी भी जांच में सहयोग करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा, ”मीडिया के जरिए मुझे पता चला कि मेरे खिलाफ FIR दर्ज की गई है। दिल्ली पुलिस को भी मेरी शिकायत पर संज्ञान लेना चाहिए।” बिभव कुमार का प्रतिनिधित्व कर रहे वकील करण शर्मा ने कहा, “हमें अभी तक पुलिस से कोई जानकारी नहीं मिली है। हमने उन्हें एक ईमेल भेजा है कि हम जांच में सहयोग करेंगे।”

मेडिकल रिपोर्ट में साफ

17 मई को रात 12 बजे के आसपास दिल्ली पुलिस ने AIIMS में मालीवाल का मेडिकल करवाया था। शनिवार को रिपोर्ट आई, जिसमें मालीवाल की आंख और पैर में चोट के निशान मिले। रिपोर्ट आने के कुछ घंटे बाद ही दिल्ली पुलिस CM हाउस पहुंची और बिभव कुमार को अरेस्ट कर लिया।

किया था एनसीडब्ल्यू का नोटिस लेने से इनकार

बता दें कि इससे पहले, बिभव कुमार राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) के सामने पेश होने में विफल रहे। जब एनसीडब्ल्यू की एक टीम दिल्ली पुलिस के साथ शुक्रवार को फिर से उन्हें नोटिस देने गई, तो घर के रहने वालों ने इसे स्वीकार करने से इनकार कर दिया। एनसीडब्ल्यू ने कुमार के घर के बाहर की तस्वीरें भी टैग की। जहां उन्होंने एक ताजा नोटिस चिपकाया था। एनसीडब्ल्यू प्रमुख रेखा शर्मा ने कहा कि आयोग की एक टीम गुरुवार को भी कुमार को नोटिस देने के लिए उनके आवास पर गई थी, लेकिन वह घर पर नहीं थे।

यह भी पढे़: Election Kushinagar: 8 उम्मीदवारों का नामांकन खारिच, जानें कैसे होता है पर्चा रद्द

स्वाति मालीवाल की FIR में दर्ज बातें जानें

FIR में स्वाति मालीवाल ने बताया कि, 13 मई की सुबह 9:00 बजे वह अरविंद केजरीवाल से मिलने उनके सिविल लाइंस स्थित सीएम हाउस पहुंची। ऑफिस में स्वाति ने CM के पर्सनल सेक्रेटरी बिभव कुमार को कॉल किया, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की। फिर स्वाति ने बिभव कुमार के वॉट्सऐप पर मैसेज किया। लेकिन मैसेज का रिप्लाई नहीं आया। इसके बाद वो सीएम आवास की ओर चली गई। वहां मौजूद स्टाफ से उन्होंने CM केजरीवाल तक मैसेज भिजवाया कि वे उनसे मिलना चाहती हैं। स्टाफ ने उनसे कहा कि सीएम कुछ देर में मिलेंगे, तब तक ड्राइंग रूम में बैठकर इंतजार करें।

तभी बिभव वहां पहुंचे और स्वाति पर चिल्लाने लगे। बदतमीजी करने लगे। स्वाति ने कहा कि उसने मुझे कम से कम 7-8 बार थप्पड़ मारे, जबकि मैं चिल्लाती रही। मैंने खुद को बचाने के लिए उसे धक्का दिया। उस समय वह मुझ पर झपटा, मुझे बेरहमी से घसीटा और जानबूझकर मेरी शर्ट ऊपर खींची। जब बिभव पीट रहा था, तब मैंने उसे बताया कि मेरे पीरियड्स चल रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी वो नहीं रुका। बिभव ने मुझ पर हमला किया और अपने पैरों से मेरी छाती, पेट और कोख पर लगातार लात-घूंसे बरसाए। मुझे बहुत दर्द हो रहा था और मैं उसे रुकने के लिए कहती रही।’ इतना ही नहीं, बिभव ने स्वाति का सिर सेंट्रल टेबल पर दे मारा। इस दौरान उनकी शर्ट के बटन खुल गए। वो किसी तरह खुद को छुड़ाते हुए सोफे पर बैठ गई।

112 पर किया कॉल

फिर 112 डायल किया। कुछ देर बाद लोकल पुलिस और SHO अपनी टीम के साथ सीएम आवास के पास पहुंचे। पुलिस ने बताया कि प्रोटोकॉल की वजह से पुलिस CM आवास के अंदर नहीं गई। घटना के तीसरे दिन दिल्ली पुलिस की एक टीम ने स्वाति मालीवाल ने करीब 4 घंटे पूछताछ की और FIR दर्ज किया। सिविल लाइंस पुलिस ने आईपीसी की अन्य धाराओं के अलावा धारा 354, 506, 509 और 323 के तहत मामला दर्ज किया है।

यह भी पढे़: Deoria Election News: चुनाव के मद्देनजर यूपी-बिहार बॉर्डर पर शराब की दुकानें बंद, आया आदेश 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी