UPI Payment

UPI Payment: नए साल में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) में कई बदलाव होने की उम्मीद है। एक बड़ा बदलाव उन यूपीआई खातों को बंद करना है जो सक्रिय नहीं हैं। इसके अलावा यूपीआई में और भी कई बदलाव आने वाले हैं जिनका असर यूजर्स पर पड़ेगा। आइए इन बदलावों के बारे में जानते हैं।

लेन-देन की सीमा:
यूपीआई के लिए ट्रांजैक्शन लिमिट में अहम बदलाव किया गया है। अब यूजर्स एक दिन में 5 लाख रुपये तक का UPI ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। इससे पहले UPI ट्रांजेक्शन की सीमा 1 लाख रुपये थी।

अप्रयुक्त UPI आईडी बंद कर दी जाएंगी:

पिछले साल, नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने घोषणा की थी कि लगभग 1 साल से निष्क्रिय सभी UPI आईडी बंद कर दी जाएंगी। इसका असर Google Pay, Paytm और PhonePe जैसे प्लेटफॉर्म के यूजर्स पर पड़ रहा है। इसकी शुरुआत 31 दिसंबर से शुरू हुआ है।

ये भी पढ़े: भारत में होगा Apple iphone का उत्पादन, WISTRON के प्लांट को खरीदने के करीब पहुंचा TATA GROUP

1 लाख रुपये तक के भुगतान के लिए किसी प्रमाणीकरण की आवश्यकता नहीं है:

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कहा कि अब 1 लाख रुपये तक के लेनदेन के लिए एडिशनल फैक्टर ऑथेंटिकेशन (AFA) की जरूरत नहीं होगी। पहले यह प्रमाणीकरण 15,000 रुपये से अधिक के भुगतान के लिए आवश्यक था।

UPI लाइट वॉलेट का विस्तारित दायरा:

यूपीआई लाइट वॉलेट से अब बिना पिन के 2,000 रुपये तक का ट्रांसफर किया जा सकता है। इसके अलावा यूपीआई लाइट के जरिए 500 रुपये तक ऑफलाइन ट्रांसफर किया जा सकता है। ऑफलाइन ट्रांसफर की पिछली सीमा 200 रुपये थी।

नए उपयोगकर्ताओं के लिए 4 घंटे की सीमा:

ऑनलाइन यूपीआई फ्रॉड को रोकने के लिए आरबीआई ने एक नया नियम पेश किया है। नए UPI उपयोगकर्ता जिन्होंने नया खाता बनाया है, वे केवल 4 घंटे के भीतर 2,000 रुपये तक का पहला भुगतान कर सकते हैं।

ये भी पढ़े: Chat Lock: निजी बातचीत के लिए व्हाट्सएप का नया फीचर

यूपीआई एटीएम और ‘टैप एंड पे’:

नए साल में, उपयोगकर्ताओं के पास यूपीआई एटीएम तक पहुंच होगी, जिससे वे डेबिट कार्ड की आवश्यकता के बिना पैसे निकाल सकेंगे। हिताची पेमेंट सर्विसेज ने UPI-ATM लॉन्च किया है। पैसे निकालने के लिए उपयोगकर्ता यूपीआई एटीएम पर क्यूआर कोड को स्कैन कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, यूपीआई में एक ‘टैप एंड पे’ सुविधा आ रही है, जो एनएफसी-समर्थित उपकरणों के लिए फोन टैप करके भुगतान की अनुमति देती है।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी