UP Bareilly: यूपी की एक मुस्लिम महिला ने अपनाया हिन्दू धर्म, हिन्दू लड़के से की शादी

UP Bareilly: उत्तर प्रदेश के बरेली जिले से तलाक और हलाला से परेशान एक मुस्लिम महिला ने हिन्दू लड़के से शादी करके सनातन धर्म अपना लिया है। इस महीने का तलाक और हलाला से परेशान होकर हिन्दू लड़के से शादी और धर्म परिवर्तन का ये दूसरा मामला है। महिला का नाम नसीमा खातून है। नसीमा ने कहा है कि मैं बिहार की पुरनीय कि रहने वाली हूँ। कुछ दिन पहले ही सोशल मीडिया के माध्यम से यूपी के बरेली के रहने वाले एक हिन्दू युवक से दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई। अब नसीमा ने हिन्दू धर्म अपनाते हुए हिन्दू रीति-रिवाज से शादी कर ली है।

UP News: तलाक और हलाला से परेशान मुस्लिम महिला ने अपनाया सनातन धर्म, ओमप्रकाश से की शादी

नसीमा ने बताया की कुछ समय पहले ही बरेली के रहने वाले मनोज शर्मा से इंस्टाग्राम पर संपर्क हुआ था। धर्मपरिवर्तन के लिए जिला प्रशासन से पत्र लिखकर गुहार लगाई थी। अब मनोज शर्मा से शादी कर ली है। नसीमा का कहना है कि उसका निकाह आगरा में हुआ था लेकिन 6 महीने पहले किसी बात को लेकर उसके पति ने तलाक दे दिया। नसीमा कि डेढ़ साल की बच्ची भी है।

तलाक के बाद पति हलाल के लिए दबाव बनाने लगा था। जब इसका विरोध किया तो परिवार वालों के साथ मिलकर उसने घर से निकल दिया था। इसके बाद नसीमा मायके में रहने लगी थी। इसी दौरान सोशल मीडिया के माध्यम से बरेली के मनोज शर्मा से दोस्ती हुई दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई और दोनों ने साथ जीने मरने की कसम खा ली। अब नसीमा ने सनातन धर्म अपना कर हिन्दू रीति-रिवाज से शादी कर ली है।

नसीमा ने सनातन धर्म अपनाने के बाद अगस्त्य मुनि आश्रम में मनोज शर्मा से शादी कर ली। इनका विवाह पंडित केके शंखधार ने कराया। पंडित केके शंखधार ने बताया कि जब युवती ने अपने साथ हुए अत्याचार के बारे में बताया और बरेली के युवक के साथ विवाह करने की बात बताई तो उन्होंने डॉक्यूमेंट चेक करने के बाद विवाह कराने के लिए राजी हुए और सनातन धर्म के मुताबिक हिंदू रीति रिवाज से दोनों का विवाह संपन्न कराया।

कुछ दिन पहले ऐसा ही एक मामला यूपी के बुलंदशहर से भी आया था। जहाँ तलाक और हलाला से परेशान शहाना नाम की एक महिला ने मुस्लिम धर्म छोड़कर बरेली के रहने वाले ओमप्रकाश के साथ हिन्दू रीति-रिवाज से शादी कर ली थी। शहाना ने बताया कि पहले पति से 3 तलाक मिलने के बाद लगातार उसे हलाला के लिए परेशान किया जा रहा था। ऐसा ही मामला नसीमा का भी है। 3 तलाक और हलाला ही मुस्लिम धर्म छोड़कर सनातन धर्म अपनाने की वजह बताई। हालाँकि इन दोनों में एक बात भी कॉमन है। दोनों हिन्दू लड़कों से सोशल मीडिया के जरिए ही प्यार हुआ है।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी