UP Crime

UP Crime: 19 नवंबर को ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच फाइनल मुक़ाबला खेला गया। वर्ल्ड कप फाइनल मैच देखने का लोगों में खूब उत्साह था। जिसमे भारत को हार का सामान करना पड़ा। इसी बीच रविवार को ही उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहाँ एक बाप ने अपने बेटे को सिर्फ इसलिए मौत के घाट उतार क्योकि उसने मैच के बीच में टीवी बंद कर दिया।

दरअसल, रविवार को ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच मैच को देखने के हर कोई टीवी के सामने टकटकी लगाकर देख रहा था। कानपुर के अहिरवार में रहने वाले बाप-बेटे गणेश प्रसाद और दीपक निषाद भी साथ में बैठकर मैच देख रहे थे। इसी दौरान बेटे दीपक ने टीवी बंद कर दिया। जिसको लेकर बाप-बेटे में बहस शुरू हो गया। बात इतनी ज्यादा बढ़ गई की पिता गणेश ने केबल से अपने बेटे का गला घोट दिया जिससे उसकी मौत हो गई। इस घटना का खुलासा सोमवार को बेटे की हत्या में गिरफ्तार हुए पिता गणेश प्रसाद ने किया।

यह भी पढ़ें:- Kaushambi UP: रेप पीड़िता को कुल्हाड़ी से काटकर उतरा मौत के घाट, सुलह करने का बना रहे दबाव

आपको बतादें की सोमवार सुबह 11 बजे कानपुर को सूचना मिली कि चकेरी के अहिरवा में रहने वाले गणेश प्रसाद के बेटे दीपक निषाद की हत्या हो गई है और उसकी हत्या पिता गणेश प्रसाद ने ही की है।

परिजनों से पूछताछ में पता चला कि गणेश और मृतक दीपक अक्सर लड़ाई होती रहती थी क्योकि गणेश नशे का आदि था और बीटा दीपक इस बात के लिए हमेशा टोकता रहता रहता था। इसलिए पुलिस ने शुरुआती जाँच में यही माना कि शायद नशे का विरोध करने पर ही गणेश ने बेटे दीपक को मौत के घाट उतरा होगा। UP Crime

पिता ने कबूल किया अपना गुनाह
रविवार की रात बेटे की हत्या करने के बाद आरोपी पिता गणेश प्रसाद मौके से फरार हो गया। सोमवार को जब पुलिस ने आरोपी पिता गणेश प्रसाद को बेटे दीपक के हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया और उससे पूछताछ की तो उसने चौकाने वाला खुलासा किया। आरोपी गणेश प्रसाद ने बताया कि रात में वो बेटे के साथ भारत और ऑस्ट्रेलिया का मैच देख रहा था। इसी दौरान बेटे ने टीवी बंद कर दिया। ह कहने लगा पहले खाना बनाओ। इससे मुझे झुंझलाहट हुई और मेरी उससे बहस होने लगी। लड़ाई ज्यादा बढ़ गई तो मुझे गुस्सा आ गया। गुस्से में मैंने तार (केबल) से उसका गला घोंट दिया।

यह भी पढ़ें:- New Delhi: फर्जी डॉक्टर, मृत मरीज़, दक्षिणी दिल्ली में कैसे खुला एक मेडिकल रैकेट

इस मामले में चकेरी प्रभारी ACP बृजनारायण सिंह का कहना है कि दोनों बाप-बेटे के बीच हमेशा लड़ाई होती रहती थी। आरोपी पिता ने गिरफ़्तारी के बाद स्वीकार किया है कि रात में बेटे ने टीवी देखते वक़्त टीवी बंद कर दिया था जिसको लेकर दोनों कि बहस हो गई। बाद में लड़ाई और बढ़ी तो गणेश ने बेटे दीपक का बिजली के तार से गला घोंट दिया. नशेबाजी को लेकर उनके बीच विवाद होता रहता था. मैच के बीच टीवी बंद करने से और लड़ाई और बढ़ गई. UP Crime

https://www.youtube.com/watch?v=r-w_C0hKm3A

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सीने पर ऐसा टैटू बनवाया कि दर्ज हुई FIR, एक पोस्ट शख्स को मुशीबत में डाला इस वजह से हार्दिक पंड्या को नहीं बनाया कप्तान ऑल इंडिया मुस्लिम जमात ने CM योगी के फैसले का किया समर्थन बॉलीवुड छोड़ने के बाद हॉलीवुड में प्रियंका चोपड़ा ने रचा इतिहास ख़त्म हुआ हार्दिक-नताशा का रिश्ता,तलाक की ख़बर से उठा पर्दा, बेटे को लेकर कही ये बात