Urinary Infection, Women Health, Causes, Treatment, UTI, Healthcare, urinary tract infection in female,urine infection causes in females,urinary tract infection symptoms,uti infection in women,urine infection in female symptoms,urine infection in female,urine infection symptoms,prostate gland and urinary problems,urology problems and symptoms,uti in female symptoms,testosterone kaise badhaye,urine problem,

Urinary infection: यूरिन इंफेक्शन आम समस्या है, लेकिन महिलाओं में यह अधिक देखा जाता है। इसके पीछे कारण अक्सर बैक्टीरिया होते हैं, जो मूत्राशय में प्रवेश करके संक्रमण का कारण बनते हैं। हर्पीज वायरस और कुछ फंगल इन्फेक्शन भी इसे प्रेरित कर सकते हैं। अगर समस्या को नजरअंदाज किया जाता है, तो इससे किडनी और यूरेट्रस को भी प्रभावित कर सकता है, जो गंभीर हो सकता है।

यह भी पढ़े: Milk Benefits: रोजाना दूध पीने से क्या होते है फायदे? दूध से एलर्जी वाले लोग अपनाये ये उपाय

क्या है यूटीआई इंफेक्शन के लक्षण

यूटीआई इंफेक्शन के लक्षण में पेशाब करते समय जलन, गहरा रंग और बदबू, यूरिन की अत्यधिक या कम मात्रा, पेल्विक और रेक्टल दर्द शामिल होते हैं। बुखार, उल्टी, और जी मिचलाना भी हो सकता है।

यूरिनरी इंफेक्शन बार-बार होने की वजह

यूटीआई इंफेक्शन के कारण में नियमित हाइजीन, पेशाब में विलम्ब, मासिक धर्म के दौरान सही साफ-सफाई, डायबिटीज, गर्भावस्था, एंटीबायोटिक दवाओं का अत्यधिक सेवन, स्टोन्स, पानी की कमी, और कमजोर इम्यून सिस्टम शामिल होते हैं ।

यह भी पढ़े: Unwanted Hair: चेहरे पर अनचाहे बालों के कारण होती है शर्मिंदगी, इन घरेलू उपाय से मिलेगी राहत

रखें अपना पूरा ध्यान

यूरिनरी इंफेक्शन की समस्या से बचे रहने के लिए जरूरी है कि पर्सनल हाइजीन का ध्यान रखें। ऐसे फैब्रिक के कपड़े पहरनें पसीने को सोख सकते हो। वहीं कमर के नीचे के भाग में ज्यादा टाइट कपड़े न पहनें। महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान खासतौर पर साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा पानी पीने के साथ ही मूत्र त्याग में कोई लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। अगर इसके बाद भी लक्षण दिखाई दें तो डॉक्टर से जांच जरूर करवाएं। यूटीआई इंफेक्शन से बचाव के लिए अच्छे हाइजीन, अधिक पानी पीना, और फाइबर युक्त आहार का सेवन करें। जिंकी और प्रोबायोटिक्स जैसे पोषक तत्वों को भी शामिल करें। तला और मसालेदार खाने से बचें, और कॉफी और चाय की मात्रा कम करें।

यह भी पढ़े: Arteries Health: दिल के सेहत का रखे ध्यान, इन जड़ी-बूटी और सब्जियों से होगी आर्टरीज साफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी