World No Tobacco Day

World No Tobacco Day: तंबाकू की स्मोकिंग और अन्य तंबाकू उत्पादों का इस्तेमाल हमारे समाज में गहराई तक पहुंच चुका है। इस आदत की वजह से न केवल स्मोकर्स, बल्कि उनके आसपास के लोग भी सेकंडहैंड स्मोकिंग के अवांछित प्रभावों का शिकार हो रहे हैं। हालांकि, इसके नुकसान को ध्यान में रखते हुए, हर साल 31 मई को ‘विश्व तंबाकू निषेध दिवस’ के रूप में मनाया जाता है, जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों को तंबाकू के नुकसान के प्रति जागरूक करना है।

तंबाकू की स्मोकिंग के नुकसानों को कम करने के लिए कुछ आसान तरीके

  1. डीप ब्रीथिंग एक्सरसाइज जरूर करें: अच्छी सांसें लेना आपके फेफड़ों को स्वच्छ और स्वस्थ रखने में मदद करता है। डीप ब्रीथिंग एक्सरसाइज जैसे प्राणायाम, ध्यान और कपालभाति आपको सांस लेने की कला सिखाते हैं और आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।
  2. हेल्दी डाइट को शामिल करें: एक स्वस्थ और बलशाली डाइट आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है, जिससे आप तंबाकू के नुकसानों को सहने में मदद मिलती है। इसमें फल, सब्जियां, पूरे अनाज, और प्रोटीन युक्त आहार शामिल हैं।
  3. नियमित रूप से व्यायाम करें: नियमित व्यायाम और शारीरिक गतिविधियां आपकी सेहत को स्थिर और मजबूत बनाती हैं, जिससे आपको टाबाकू के नुकसानों का सामना करने की क्षमता मिलती है।
  4. एयर प्यूरीफायर का इस्तेमाल करना ना भूलें: घर के वातावरण को शुद्ध करने के लिए एयर प्यूरीफायर का इस्तेमाल करें, ताकि धुएं और वायुमंडल के अन्य प्रदूषकों का स्तर कम हो।
  5. प्रकृति में समय बिताएं: प्रकृति में समय बिताना स्मोकिंग के नुकसानों का खिलाफ एक अच्छा प्रतिरोधक हो सकता है। इसके लिए आप झीलों के किनारे, या पार्क में जाकर बैठ सकते है। इससे आपको अपने अंदर ताजगी महसूस होगी।

यह भी पढ़ें: Mango Shake: गर्मियों में मैंगो शेक पीने के नुकसान, सेहत पर होता है ये प्रभाव

चिकित्सक से सलाह लेनी जरूरी

विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर, एक और महत्वपूर्ण बिंदु है कि तंबाकू से निपटने के लिए समर्थन और सहायता का महत्व। अगर कोई तंबाकू की आदत से मुक्ति पाने की कोशिश कर रहा है, तो वे अपने आसपास के लोगों से, चिकित्सकों से या समर्थन समूहों से सहायता ले सकते हैं।

यहां कुछ अत्यंत महत्वपूर्ण संसाधन हैं जो तंबाकू छोड़ने की इच्छुक लोगों की सहायता कर सकते हैं।

इच्छुक लोगों की सहायता के लिए समाधान

  1. स्थानीय सहायता समूह: अनेक बार समुदाय में तंबाकू छोड़ने का समर्थन उपलब्ध होता है जैसे कि तंबाकू छोड़ने का समर्थन समूह या निरोगी जीवन शैली की समर्थन समूह।
  2. चिकित्सक सलाह: यदि कोई व्यक्ति तंबाकू छोड़ने के लिए प्रेरित है, तो वे अपने चिकित्सक से चर्चा कर सकते हैं। चिकित्सक समर्थन, निर्देशन और अन्य संसाधन प्रदान कर सकते हैं जो उन्हें तंबाकू छोड़ने में सहायता कर सकते हैं।
  3. आधारित ऐप्स और ऑनलाइन संसाधन: आजकल कई मोबाइल ऐप्स और ऑनलाइन संसाधन उपलब्ध हैं जो तंबाकू छोड़ने की प्रक्रिया में सहायता कर सकते हैं। ये ऐप्स और वेबसाइट्स ट्रैकिंग और मोटिवेशन प्रदान करते हैं, साथ ही छोड़ने के लिए टिप्स और तकनीकी सहायता भी प्रदान करते हैं।
  4. ऑनलाइन समर्थन समूह: वेबसाइट्स और सोशल मीडिया पर समर्थन समूहों और फोरम भी होते हैं, जो लोगों को एक-दूसरे से जुड़ने और अपने अनुभवों को साझा करने का माध्यम प्रदान करते हैं।

यह भी पढ़ें: Health Effect: ज्यादा तापमान से हो सकती है ये परेशानी, ब्रेन पर भी पड़ता है प्रभाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी