समाजवादी पार्टी कार्यालय के सामने नोटिस चिपगाई गयी है, थाना प्रभारी गौतम पल्ली की तरफ से नोटिस नोटिस चिपकाई गई , कोविड-19 महामारी से बचाव को लेकर नोटिस नोटिस चिपकाया गया है, आयोग की रैली जुलूस और मीटिंग आदि पर पूरी तरह से रोक का नोटिस में जिक्र किया गया है।

आपको बतादें कि लखनऊ सपा कार्यालय में कार्यक्रम पर धारा 144 तोड़ने और महामारी एक्ट के तहत एफआईआर हुई थी,
कुछ नेताओं की जॉइनिंग के बाद अखिलेश यादव ,स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाषण दिया था। भाषण में मौर्या ने कहा- ये लड़ाई 85 बनाम 15 है। 85 हमारा है 15 में भी बटवारा है, आज से आंधी चलेगी बीजेपी के परखच्चे उड़ जाएगी, मैंने पार्टी भले न बनाई हो लेकिन किसी पार्टी से कम हैसियत नहीं रखते है।

उन्होंने आगे कहा- अखिलेश नवजवान है, पढ़े लिखे हैं , नई ऊर्जा है इसलिए हाथ मिलाया, जिसका साथ छोड़ता हूं उसका अतापता नहीं रहता है, बहन जी इसका उदाहरण है। बीजेपी को कहना चाहता हूं आपके बुरे दिन आ गया है। आज के बाद भी इस्तीफे का सिलसिला चलता रहेगा। 10 मार्च को बीजेपी को पुराने आंकड़े पर लाकर खड़ा कर दूंगा। बीजेपी को उखाड़कर हिन्द महासागर में डुबो देंगे

आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर लखनऊ में बड़ी कार्रवाई हुए है, थाना प्रभारी गौतम पल्ली दिनेश सिंह बिष्ट निलंबित किए गए

जिला निर्वाचन अधिकारी लखनऊ की रिपोर्ट पर आयोग ने कार्यवाही की है। इसके अलावा सहायक पुलिस आयुक्त अखिलेश सिंह और रिटर्निंग ऑफिसर लखनऊ मध्य विधानसभा गोविंद मौर्य से स्पष्टीकरण तलब किया है। शनिवार सुबह 11 बजे तक नगर मजिस्ट्रेट प्रथम गोविंद मौर्य को स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए गए है।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे 41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने