देवरिया जिले के बरहज स्थित सरयू तट पर दादा और उनके पौत्र की चिताएं एक साथ जलाई गईं। जिसे देखकर सभी की आंखें नम हो गईं। आपको बता दें कि मदनपुर थाना क्षेत्र के खुदियां बुजुर्ग गांव में शिवम (15) पुत्र संजय सिंह का सोमवार की देर शाम शौचालय में गिरकर चोटिल हो गए थे। जिन्हें इलाज के लिए ले जाया गया, जहां रास्ते में उसकी मौत हो गई।

ये भी पढ़िए: बरहज: साली को बैंक ले जा रहे जीजा की सड़क हादसे में मौत

पौत्र के मौत की जानकारी मिलाने पर सदमें में पूर्व प्रधान और दादा सुरेश सिंह (70) का हार्ट अटैक से निधन हो गया। घर से एक साथ दो अर्थी उठने से गांव में मातम पसरा हुआ है।

खुदियां बुजुर्ग गांव निवासी पूर्व प्रधान सुरेश सिंह पुत्र स्व. हरीप्रसाद सिंह 1980-90 के दशक में लगातार दो बार गांव के प्रधान चुने गए थे। उनके एकलौते पुत्र संजय सिंह का शिवम एकलौता पुत्र था। बताया जा रहा है कि शिवम गोरखपुर के सरस्वती विद्या मंदिर सूरजकुंड में 11वीं का छात्र था। जो पिछले करीब एक सप्ताह से गांव आया हुआ था।

ये भी पढ़िए: लार: चौकीदार के बेटे को जलाकर मर डालने की कोशिश

सोमवार की शाम वह शौचालय में गया, जहां पैर फिसलने से वह गिरकर चोटिल हो गया। दरवाजे पर शिवम का शव देख कर उसके दादा सुरेश सिंह भी सदमें में आ गए। रात में करीब साढ़े बारह बजे उनकी हार्ट अटैक से भी मौत हो गई। मंगलवार को दोनों की एक साथ दादा-पौत्र की अर्थी उठते देख गांव क्षेत्र में शोक की लहर है। बेटे की मौत से सीमा का रो-रो कर बुरा हाल है।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोनक्षी सिन्हा और ज़ाहिर इक़बाल हुए एक दूजे के लिए, सोनाक्षी ने तश्वीरे शेयर की गौतम अडानी को कितनी सैलरी मिलती है ? जानकर चौक जाओगे लंबे समय तक AC में रहने से सिरदर्द या माइग्रेन क्यों होता है? सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे