उत्तर प्रदेश में एक राशन घोटाले का मामला सामने आया है दरशल मुफ्त राशन लेने वाले किसानों ने 2000 करोड़ का अनाज बेचा है, 66 हजार राशन कार्ड धारक ने सरकारी क्रय केंद्रों पर तीन-तीन लाख रुपए से ज्यादा का धान व गेहूं बेचा है, सरकारीनियम के अनुसार जिस परिवार की आय शहरी क्षेत्र में तीन लाख और ग्रामीण क्षेत्र में 2 लाख से ज्यादा है उसका राशन कार्ड नहीं बन सकता।

प्रदेश में कुल 3.60 करोड़ राशन कार्ड धारक हैं, आधार कार्डो से राशन घोटाले में गड़बड़ी पकड़ी गई, विभाग ने सॉफ्टवेयर से सभी राशन कार्डो पर दर्ज आधार नंबर से किसानों का मिलान किया और इस घोटाले का खुलासा किया

पूरे मामले में प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद वीना कुमारी मीना ने सभी जिलाधिकारियों को जांच का निर्देश दिया है। वीना कुमारी मीना ने सभी जिलाधिकारी 15 दिन में रिपोर्ट भेजेंगे को कहा है, रिपोर्ट आने के बाद इन पर आगे की कार्रवाई होगी ।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे 41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने