Jaipur

देश भर में सीमा हैदर-सचिन मीणा (Seema Haider-Sachin Meena) और अंजू-नसरुल्लाह (Anju-Nasrullah) की चर्चा हर किसी की जुबान पर है। लेकिन इस बीच एक और खबर सामने आ रही है जहां एक नाबालिक लड़की (Minor Girl) भी अपने पाकिस्तानी बॉयफ्रेंड (Pakistani Boyfriend) के पास जाने के लिए जयपुर एयरपोर्ट (Jaipur Airport) पहुंच गई। मामले में खास बात ये है कि वह लड़की इंडियन आर्मी (Indian Army) के एक जवान की बेटी है। जो कि पाकिस्तान के लाहौर (Lahore) में रह रहे बॉयफ्रेंड से मिलना चाहती है।

दरअसल, पाकिस्तान जाने के लिए 29 जुलाई को जयपुर एयरपोर्ट पहुंची 17 साल की नाबालिग के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। सीकर के श्रीमाधोपुर की रहने वाली आर्मी मैन की नाबालिग बेटी पाकिस्तान के लाहौर में रहने वाले अपने बॉयफ्रेंड से शादी करने जा रही थी। महज 250 रुपए लेकर एयरपोर्ट पहुंची लड़की ने लाहौर का टिकट मांगने लगी। ये देख लड़की को CISF के जवानों ने कस्टडी में ले लिया था। नाबालिग को CISF जवानों ने एयरपोर्ट पुलिस (Airport Police) को सौंप दिया था।

यह भी पढ़ें:- शर्मनाक: 5 साल की मासूम बच्ची से Rape के बाद गला दबाकर हत्या, बोरे में डालकर Dumping Ground में फेंका शव

पुलिस जांच में सामने आया कि नाबालिग पाकिस्तान में बैठे अपने बॉयफ्रेंड से मिलने के लिए घर से भागी थी। एयरपोर्ट पहुंचने से पहले नाबालिग ने जयपुर में बुर्का खरीदा। इससे किसी को शक न हो। फिर लाहौर एयरपोर्ट पर मिलने वाले बॉयफ्रेंड से शादी कर पाकिस्तान में रहना चाहती थी।

DCP (ईस्ट) ज्ञानचंद यादव ने बताया- पाकिस्तान बॉयफ्रेंड से मिलने जाने वाली लड़की ने चौमूं इलाके में स्थित एक प्राइवेट स्कूल से 12वीं क्लास पास की है। करीब एक साल पहले उसकी इंस्टाग्राम से पाकिस्तान के लाहौर निवासी असलम लाहोरी से दोस्ती हुई थी।

इंस्टाग्राम पर फ्रेंडशिप होने पर दोनों एक-दूसरे से बातचीत करने लगे। बातचीत के दौरान दोनों ने एक-दूसरे से मिलने की इच्छा जताई थी। पाकिस्तानी प्रेमी से मिलने की जगह लाहौर एयरपोर्ट तय हुई थी।

बातचीत के दौरान कर दिया ब्रेन वॉश

पुलिस सूत्रों के अनुसार, असलम ने नाबालिग लड़की का ब्रेन वॉश कर दिया था। इसके चलते वह इस्लाम धर्म पसंद करने लगी थी। स्कूल की फ्रेंड्स से भी नाबालिग ने असलम की बात करवाई थी। नाबालिग की कई फ्रेंड्स से भी असलम की सोशल मीडिया के जरिए बात होती थी। नाबालिग को उसने पूरी तरह प्यार में फांस लिया था। असलम के कहे अनुसार ही नाबालिग सभी काम करने लगी थी।

https://youtu.be/YyuT2dF__Z0

फ्रेंडशिप की चेट कर देती थी डिलीट

पाकिस्तानी प्रेमी से इंस्टाग्राम पर चेट करने के बाद चेटिंग को डिलीट कर देती थी। चेट डिलीट करने के चलते ही असलम से हुई बातचीत के बारे में किसी को पता नहीं चल पाया था। पुलिस को शक है कि नाबालिग असलम के कहने पर ही बातचीत डिलीट कर रही थी।

प्लानिंग के तहत पाकिस्तान जाने के लिए घर से भागी

सूत्रों के अनुसार, नाबालिग ने पाकिस्तानी प्रेमी के कहे अनुसार ही घर से भागने का प्लान बनाया। प्लानिंग के तहत शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे वह घर से चौमूं जाने की कहकर निकली। रोडवेज बस में बैठकर वह सीकर से जयपुर आ गई।

बस में मिले दो लड़कों से बातचीत के दौरान एयरपोर्ट जाने के लिए मदद मांगी। सिंधी कैंप बस स्टैंड पर उतरने के बाद पास ही शॉप से बुर्का खरीदा। बुर्का पहनकर जयपुर एयरपोर्ट पर पहुंच गई।

एयरपोर्ट पर बनाई असलम की बताई कहानी

एयरपोर्ट पर पहुंचने पर नाबालिग लड़की ने पाकिस्तानी प्रेमी असलम के कहे अनुसार कहानी बताई। असलम ने उसे सिखाया था कि एयरपोर्ट पर जाकर उसे क्या बोलना है? एयरपोर्ट पर बिना पासपोर्ट-वीजा के पहुंची नाबालिग ने खुद को पाकिस्तान निवासी गजल बताया। तीन साल पहले बुआ के साथ पाकिस्तान से आकर सीकर में रहना बताया। उसने कहा- बुआ से झगड़ा होने पर वापस पाकिस्तान जाना चाहती है।

शादी कर पाकिस्तान में रहना चाहती थी

पुलिस सूत्रों की मानें तो एयरपोर्ट थाने में 4 घंटे नाबालिग की काउंसलिंग की। इसके बाद उसे परिवार के सुपुर्द कर दिया। पूछताछ में नाबालिग ने बताया- असलम के साथ बनाई प्लानिंग के तहत वह घर से भागी थी। दोनों को लाहौर एयरपोर्ट पर मिलना था। पाकिस्तान पहुंचकर नाबालिग असलम से शादी कर वहीं रहना चाहती थी। एयरपोर्ट पहुंचने पर नाबालिग के पास 250 रुपए ही बचे थे। लड़की के पिता जैसलमेर में तैनात है।

https://youtu.be/tZEBAvIpZ-E

परिवार ढूंढ रहा था, फोटो दिखाने पर पहचाना

पुलिस काउंसलिंग के दौरान नाबालिग लड़की बार-बार कहानी बदल रही थी। जिसके बाद पता चला कि लड़की सीकर के श्रीमाधोपुर की रहने वाली है। सीकर पुलिस को लड़की की फोटो भेजकर लोकल जानकारी जुटाने को कहा गया।

श्रीमाधोपुर में जानकारी जुटाने पर पता चला की वह पढ़ने जाने की कहकर चौमूं गई थी। दोपहर बाद घर नहीं लौटी। उसका पता नहीं चलने पर परिजन-रिश्तेदार उसको ढूंढ रहे थे। सीकर पुलिस ने लड़की की फोटो दिखाई तो उन्होंने पहचान लिया।

परिजनों के पूछने पर बताया गया कि जयपुर के एयरपोर्ट थाने में उनकी बेटी है। जो पाकिस्तान किसी लड़के से मिलने जाने के लिए जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंची थी। पाकिस्तान के लिए टिकट मांगने पर उसको CISF ने पकड़ कर पुलिस के हवाले किया है।

एयरपोर्ट पर बढ़ाई गई थी सुरक्षा

एयरपोर्ट सूत्रों के मुताबिक, शुक्रवार दोपहर को एयरपोर्ट पर आध्यात्मिक गुरु माता अमृतानंदमयी को आना था। इसलिए एयरपोर्ट पर सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। अमृतानंदमयी को स्टेट गेस्ट घोषित करने के कारण Z कैटेगरी की सिक्योरिटी लगाई गई थी।

एयरपोर्ट पर टाइट सिक्योरिटी के दौरान ही काउंटर पर बिना वीजा-पासपोर्ट के पाकिस्तान का टिकट मांगने की आवाज सुनकर सुरक्षाकर्मी सकते में आ गए थे।

क्या है मामला

दरअसल, शुक्रवार दोपहर 2 बजे एक लड़की दो लड़कों के साथ एयरपोर्ट पहुंची थी। जहां उसने पाकिस्तान का टिकट मांगा। एयरपोर्ट स्टाफ ने पहले मजाक समझा, लेकिन उसके बाद लड़की ने उन्हें बताया कि वह पाकिस्तानी है। अपनी बुआ के साथ तीन साल पहले भारत आई थी। वह सीकर के श्रीमाधोपुर में रह रही थी। कुछ दिन पहले उसका बुआ से झगड़ा हो गया।

https://youtu.be/gxO22MLxjaw

अलवर की अंजू पहुंच चुकी पाकिस्तान

इससे पहले भी राजस्थान की महिला के पाकिस्तान जाने का मामला सामने आ चुका है। अलवर की अंजू पाकिस्तान में अपने बॉयफ्रेंड के पास पहुंच गई। अंजू ने इस्लाम कबूल कर शादी कर ली। इस्लाम धर्म अपनाने के बाद उसने अपना नया नाम फातिमा रख लिया है। दोनों ने पेशावर के लोकल कोर्ट में शादी की थी।

34 साल की अंजू फिलहाल पाकिस्तान में अपने 29 साल के बॉयफ्रेंड नसरुल्लाह के साथ रह रही है। साल 2019 में फेसबुक पर दोनों के बीच दोस्ती हुई थी। अंजू की यह दूसरी शादी है, वह दो बच्चों की मां भी है।

यह भी पढ़ें:- Jammu and Kashmir के कुलगाम से Army Soldier हुआ Missing, EID की छुट्टी लेकर आया हुआ था घर

दावा किया था कि अंजू और नसरुल्लाह का निकाह हो गया है, वे दोनों डीर बाला की जिला कोर्ट में पहुंचे थे, उनके साथ कुछ पुलिस अफसर, वकील और नसरुल्लाह के परिवार के सदस्य भी थे।

मालाकंड डिवीजन के डीआईजी नासिर महमूद सत्ती के हवाले से खबर आई थी कि शादी के बाद अंजू को पुलिस सुरक्षा में एक घर में शिफ्ट किया गया है।

अंजू और नाबालिग की कहानी में अंतर

अंजू और नाबालिग लड़की की कहानी में सबसे बड़ा अंतर है कि अंजू वीजा लेकर कानूनी तरीके से पाकिस्तान गई है। वहीं, नाबालिग लड़की बिना किसी वीजा और पासपोर्ट के एयरपोर्ट पहुंच गई। अंजू को पाकिस्तान जाने के लिए दो साल इंतजार भी करना पड़ा।

वहीं, नाबालिग की पाकिस्तानी प्रेमी से करीब एक साल पहले ही दोस्ती हुई। वो प्रेमी के कहने पर सीधे ही एयरपोर्ट पहुंच गई। दोनों की कहानी में एक समान बात भी है। अंजू भी शादी करने लाहौर पहुंची थी। वहीं, नाबालिग को भी लाहौर ही जाना था।

https://youtu.be/KIRVLfDx41g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सीने पर ऐसा टैटू बनवाया कि दर्ज हुई FIR, एक पोस्ट शख्स को मुशीबत में डाला इस वजह से हार्दिक पंड्या को नहीं बनाया कप्तान ऑल इंडिया मुस्लिम जमात ने CM योगी के फैसले का किया समर्थन बॉलीवुड छोड़ने के बाद हॉलीवुड में प्रियंका चोपड़ा ने रचा इतिहास ख़त्म हुआ हार्दिक-नताशा का रिश्ता,तलाक की ख़बर से उठा पर्दा, बेटे को लेकर कही ये बात