यूक्रेन पर रूस के हमले के छठवें दिन खार्किव शहर में एक भारतीय छात्र नवीन कुमार की मौत हो गई है। विदेश मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी। मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने सोशल मीडिया पर कहा- हमें यह बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि खार्किव में बमबारी की वजह से एक भारतीय छात्र की जान चली गई है। हम उसके परिवार के संपर्क में हैं। मृतक नवीन कर्नाटक का रहने वाला था। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्र के पिता से बात कर दुख जताया है।

इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को युक्रेन से अपने नागरिकों को निकालने के लिए हाईलेवल मीटिंग की। विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया कि इसमें तय किया गया कि अगले तीन दिन में भारत से 26 फ्लाइट्स यूक्रेन में फंसे भारतीयों को लाने के लिए भेजे जाएंगे। श्रृंगला ने बताया कि पीएम ने युक्रेन में भारतीय छात्र नवीन शेखरप्पा की मौत पर दुख व्यक्त किया है। नवीन शेखरप्पा की बॉडी वापस लाने के लिए भारत यूक्रेन के लोकल अथॉरिटी के संपर्क में हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक छात्र नवीन कर्नाटक का रहने वाला था। उसकी उम्र 21 साल थी और वह खाना लेने के लिए बाहर निकला था। नवीन खार्किव नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी में फोर्थ ईयर का छात्र था।

अब सवाल ये नहीं है कि यूक्रेन में फंसे भारतीयों को लाने के लिए 26 फ्लाइट्स यूक्रेन भेजी जाएगी, सवाल तो ये है कि ये फैसला एक भारतीय के जान गवाने के बाद क्यों लिया गया। जो कदम सर्कार इस वक़्त उठा रही है वो पहले भी तो उठाया जा सकता था। पीड़ित छात्र एक हफ्ते सोशल मीडिया के माध्यम से यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकलने की गुहार लगा रहे थे।
आपकी राय कमेंट करके हमें जरूर बताएं

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे 41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने सिर्फ 1% लोग ‘बी’ के समुद्र के बीच छिपी 8 को पहचान पायेंगे