छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को रायपुर पुलिस ने उत्तर प्रदेश के आगरा से मंगलवार दोपहर गिरफ्तार किया। इसके बाद उन्हें जिला कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। नंद कुमार बघेल पर ब्राह्मणों के खिलाफ बयानबाजी करने का आरोप है। उनके खिलाफ रायपुर के डीडी नगर थाने में केस दर्ज किया गया था।
भूपेश बघेल के पिता के खिलाफ ब्राह्मणों के खिलाफ कथित अपमानजनक बयान को लेकर यह कार्रवाई की गई है. रायपुर की एक अदालत में नंद कुमार को पेश किया गया.

बघेल सामाजिक कार्यकर्ता हैं। वे लखनऊ शिक्षक भर्ती में गलत आरक्षण प्रक्रिया अपनाने पर धरना दे रहे युवाओं के बीच 30 अगस्त को पहुंचे थे और उनका समर्थन किया था। इस धरने में उन्होंने ब्राह्मणों को विदेशी बताते हुए बयानबाजी की थी उन्होंने कहा था कि ब्राह्मण विदेशी हैं, जिस तरह अंग्रेज यहां से गए, वो भी यहां से जाएंगे। ब्राह्मण सुधर जाएं, या तो जाने के लिए तैयार रहें।
कानून से ऊपर कोई नहीं
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उनके पिता पर मुकदमा दर्ज होने पर कहा था कि कांग्रेस सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं है. चाहे वो मुख्यमंत्री के 86 वर्ष के पिता ही क्यों न हों. भूपेश बघेल ने कहा था पुलिस द्वारा कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी. हमारे लिए कानून सबसे ऊंचा है. सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि उनके पिता द्वारा कथित तौर पर एक वर्ग विशेष के खिलाफ टिप्पणी प्रकाश में आई है.

उनके इस बयान से समाज के एक वर्ग की भावनाओं और सामाजिक सद्भाव को चोट पहुंची है. उन्हें भी निजी तौर पर दुःख हुआ है. सीएम ने कहा कि उन्हें सोशल मीडिया एवं अन्य के जरिये यह जानकारी मिली है. यह कहना है कि नंद कुमार पर इसलिये कार्रवाई नहीं होगी क्योंकि वे सीएम के पिता हैं, यह गलत है. छत्तीसगढ़ सरकार सभी को एक समान नजरिये से देखती है.

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोनक्षी सिन्हा और ज़ाहिर इक़बाल हुए एक दूजे के लिए, सोनाक्षी ने तश्वीरे शेयर की गौतम अडानी को कितनी सैलरी मिलती है ? जानकर चौक जाओगे लंबे समय तक AC में रहने से सिरदर्द या माइग्रेन क्यों होता है? सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे