करनाल में 28 अगस्त को सीएम के दौरे का विरोध कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज को लेकर आज किसानों द्वारा महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है। महापंचायत को लेकर करनाल को पूरी तरह से प्रशासन ने छावनी में तब्दील कर दिया है। राज्य सरकार ने 4 ज़िलों में इंटरनेट, मोबाइल और एसएमएस सेवाएं बंद कर दी हैं।
वहीं, हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है, ‘’प्रशासन के पुख़्ता बंदोबस्त हैं. किसी को भी क़ानून हाथ मे नहीं लेने दिया जाएगा. हमारी किसान भाइयों से अपील भी है कि वो अपनी जनसभा करना चाहते हैं तो करें. लेकिन शांतिपूर्ण तरीके से करें.’’
कृषि मंत्री जेपी दलाल ने चढूनी पर साधा निशाना

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि उन्हें लगता है कि गुरनाम चढूनी ने हरियाणा में लगातार अराजकता पैदा करने के लिए कांग्रेस से पैसा लिया है। वे इसे तब तक जारी रखेंगे जब तक कि कुछ निर्दोष किसानों की जान नहीं चली जाती। हरियाणा के कुछ किसान समझ गए हैं कि यह सब राजनीति है।
करनाल जिला प्रशासन और पुलिस द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि, इंटेलीजेंस रिपोर्ट पुलिस के अनुसार लाठी, जेली, लोहे की रॉड से लैस होकर कुछ लोग अनाज मंडी पहुंचे हैं। पुलिस और प्रशासन ने किसान नेताओं से बात की है जिन्होंने ऐसे तत्वों को कार्यक्रम स्थल छोड़ने के लिए मनाने की कोशिश की, लेकिन वे अपने नेताओं की भी नहीं सुन रहे हैं। करनाल जिला प्रशासन और पुलिस द्वारा ऐसे शरारती तत्वों को कानून हाथ में न लेने और सार्वजनिक व्यवस्था बनाए रखने की चेतावनी दी जा रही है। ऐसे सभी तत्वों से कानून के अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे 41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने