देवरिया: जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने आज विकास भवन स्थित गांधी सभागार में इंटीग्रेटेड ग्रीवांस रिड्रेसल सिस्टम (आइजीआरएस) के अंतर्गत आने वाले शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा की। बैठक में उन्होंने सभी विभागाध्यक्षों को जन शिकायतों का समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराने का निर्देश दिया। इस कार्य में लापरवाही होने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी।

ये भी पढ़िए: अधिशासी अभियंता जल निगम का वेतन बाधित करने के साथ प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश

जिलाधिकारी ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन, पीजीपोर्टल, तहसील दिवस, मुख्यमंत्री कार्यालय सहित विभिन्न प्लेटफार्मों के माध्यम से जनता अपनी शिकायतों एवं समस्याओं के समाधान के लिए आवेदन करती है। शासन की नीतियों के अनुसार उनका समयबद्ध निस्तारण अत्यंत आवश्यक है। जिलाधिकारी ने समस्त विभागाध्यक्षों को शिकायतों की रियल टाइम मॉनिटरिंग करने और नियमित रूप से निगरानी करने का निर्देश दिया।

उन्होंने श्रम विभाग, सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक सहकारिता और तहसील से जुड़े लंबित प्रकरणों पर गहरी नाराज़गी व्यक्त की।उन्होंने कहा कि यदि किसी विभाग में लंबित शिकायत डिफाल्टर की श्रेणी में आया तो विभागाध्यक्ष की जवाबदेही तय की जाएगी। समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार, एडीएम (प्रशासन) कुँवर पंकज, जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, डीआईओएस देवेंद्र कुमार गुप्ता सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने सिर्फ 1% लोग ‘बी’ के समुद्र के बीच छिपी 8 को पहचान पायेंगे गरीब बना देंगी फाइनेंस से जुड़ी कुछ आदतें, आज ही बदल डालें