वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर में तैनात सीआरपीएफ जवान की मौत हो गयी। छुट्टी में घर आए सीआरपीएफ जवान की अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद उपचार के लिए कमांड आफिस वाराणसी ले जाए जाते समय रास्ते में मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया।

भागलपुर ब्लाक क्षेत्र के देवसिया गांव निवासी राणा प्रताप सिंह पुत्र स्व. सुदामा सिंह सीआरपीएफ में सब इंस्पेक्टर पद पर 95 बटालियन इ कंपनी में तैनात थे। इन दिनों इनकी ड्यूटी वाराणसी काशी विश्वनाथ मंदिर के कारीडोर में चल रही थी। छुट्टी पर घर आए थे और दो दिन बाद ड्यूटी पर जाने की तैयारी में जुटे थे। शनिवार को अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई उन्हें ईलाज के लिए ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गयी।

ये भी पढ़िए: विधानसभा चुनाव-2022 को देखते हुए नकली शराब निर्माताओं और शराब तस्करों पर रहेगी विशेष नजर

उपचार के लिए गोरखपुर मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, लेकिन चिकित्सकों की सलाह पर रविवार को अपनी बटालियन के कमांड आफिस में रिपोर्ट कर उपचार कराने के लिए वाराणसी जा रहे थे। अभी वह मऊ के पास पहुंचे ही थे कि उनकी मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। माना जा रहा है कि हृदय गति रुकने से उनका निधन हुआ है।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे 41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने