देवरिया: जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने आगामी विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए शराब की तस्करी और अवैध शराब निर्माण की गतिविधियों को नियंत्रित करने के उद्देश्य से तहसीलवार 5 टीमों का गठन किया है। यह दल 5 जनवरी 2022 से 31 मार्च 2022 तक जनपद में विशेष परिवर्तन अभियान चलाकर अवैध शराब से जुड़ी गतिविधियों को नियंत्रित करेगा।

ये भी पढ़िए: नया साल और 3 बड़े हादसे- जानिए कहां क्या हुआ और कितने लोग मरे?

जिलाधिकारी ने बताया की सभी तहसीलों में उप-जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी तथा आबकारी निरीक्षक टीम के सदस्य होंगे। यह टीम उप जिलाधिकारी के नेतृत्व में चिन्हित अवैध शराब के अड्डों पर प्रभावी प्रवर्तन की कार्यवाही संपादित करेगी। टीम को संदिग्ध ढाबों तथा किराने की दुकानों पर गहनतापूर्वक चेकिंग का कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं।

नकली शराब की रोकथाम करने के सम्बंध में भी आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। टीम थोक व फुटकर विक्रय अनुज्ञापनों का आकस्मिक रूप से निरीक्षण कर शराब के स्टॉक और बारकोड व क्यूआर कोड की सतर्कता पूर्वक जांच करेगी। राजमार्गों पर स्थित संदिग्ध ढाबों पर, जहां अल्कोहल टैंकर प्रायः रुकते हैं, की आकस्मिक जांच की जाएगी। अवैध मदिरा के कार्य में पूर्व में संलिप्त माफियाओं की गतिविधियों पर भी निगाह रखी जायेगी।

जिलाधिकारी ने मिथाइल अल्कोहल के प्रयोग को रोकने के लिए विशेष अभियान चलाने और पूर्व में जारी निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि जनपद में लाइसेंसी दुकानों पर निर्धारित मूल्य पर मदिरा बेचने की जांच भी औचक रूप से करेगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में शराब की खपत बढ़ने की उम्मीद है ऐसे में नकली शराब निर्माताओं और शराब तस्करों पर नकेल कसने के उद्देश्य से इन टीमों को कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रवर्तन के कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोनक्षी सिन्हा और ज़ाहिर इक़बाल हुए एक दूजे के लिए, सोनाक्षी ने तश्वीरे शेयर की गौतम अडानी को कितनी सैलरी मिलती है ? जानकर चौक जाओगे लंबे समय तक AC में रहने से सिरदर्द या माइग्रेन क्यों होता है? सिर्फ तेज़ नज़र वालों के लिए है ये चैलेंज इस फोटो में तीन कमिया हैं। सिर्फ 1% लोग ही ढूंढ पाएंगे