मध्य प्रदेश के सीधी जिले में पत्रकारों/ कलाकारों को भारतीय दंड विधान की धारा 151 के तहत गिरफ्तार कर थाना हाजत में उनकी निर्मम पिटाई करने और उन्हें अर्धनग्न कर रात भर हवालात में बंद रखने के आरोप में सीधी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक मनोज सोनी और इस वारदात के वक्त सीधी कोतवाली में उपस्थित अमलिया के थाना प्रभारी अभिषेक सिंह परिहार को निलंबित कर उन्हें लाइन हाजिर कर दिया गया है।
सीधी के एसपी मनोज श्रीवास्तव ने अपने पत्रांक 5186 दिनांक 7/ 4/22 के तहत इन दोनों पुलिसकर्मियों पर सीधी कार्रवाई की है। इस मामले में एक पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि इस मामले को गंभीरता से लिया गया है। मामले की जांच डी एस पी हेड क्वार्टर गायत्री तिवारी को दिया गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पत्रकारों के अर्धनग्न वायरल वीडियो को देखकर शर्मसार हुए और उनके निर्देश पर तत्काल यह कार्रवाई किया गया। सीधी एएसपी अनुजता पटेल का भी मानना है कि यह मामला काफी गंभीर है।

इस बीच पत्रकार संगठनों ने यह मांग की है कि इस मामले की न्यायिक जांच हो और कानून संविधान और मानव अधिकार की धज्जियां उड़ाने वाले तमाम पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर जेल में डाला जाए और उन पर विभागीय कार्रवाई चला कर उन्हें पुलिस सेवा से बर्खास्त किया जाए।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने सिर्फ 1% लोग ‘बी’ के समुद्र के बीच छिपी 8 को पहचान पायेंगे गरीब बना देंगी फाइनेंस से जुड़ी कुछ आदतें, आज ही बदल डालें