Jhansi

Jhansi UP: झांसी में एक युवक ने अपनी पत्नी को खोजने के लिए दर-दर भटकने की चौंकाने वाली कहानी पेश की है, जो हाल ही में चर्चित पीसीएस ज्योति मौर्या मामले की तरह ही विवादित है। युवक का दावा है कि उसने लव मैरिज की थी और अपनी पत्नी को पढ़ाने के लिए कठिन मेहनत की, लेकिन जब उसकी पत्नी लेखपाल बन गई, तो उसने उसे छोड़ दिया। अब युवक न्याय की तलाश में पुलिस और अधिकारियों के चक्कर काट रहा है, लेकिन उसकी पत्नी का कोई पता नहीं चल पा रहा है। बुधवार को जब उसकी पत्नी को लेखपाल के पद के लिए नियुक्ति पत्र मिल रहा था, युवक उसे खोजने गया था, लेकिन खाली हाथ लौट आया। इसी बीच, महिला ने फोन पर बातचीत के दौरान कैमरे के सामने आने से इनकार करते हुए कहा कि उसकी शादी ही नहीं हुई है।

मामले की शुरुआत और घटनाक्रम

पीड़ित युवक नीरज विश्वकर्मा झांसी जिले के बाहरी इलाके बाबा का अटा में रहता है। नीरज तीन भाइयों में सबसे छोटा है और कारपेंटर का काम करता है। पांच साल पहले उसकी मुलाकात झांसी की सत्यम कॉलोनी में रहने वाली रिचा सोनी से हुई थी। दोनों के बीच दोस्ती हुई, जो धीरे-धीरे प्यार में बदल गई। लगभग ढाई साल पहले, दोनों ने अपनी मर्जी से ओरछा मंदिर में जाकर शादी कर ली। शादी के बाद दोनों हंसी-खुशी से रहने लगे, लेकिन रिचा ने अपनी पढ़ाई को लेकर महत्वाकांक्षा जाहिर की।

नीरज ने रिचा की पढ़ाई के लिए कठिन मेहनत की और मजदूरी की, ताकि उसकी पढ़ाई जारी रह सके। रिचा का चयन लेखपाल के पद पर हुआ, लेकिन इसके बाद वह नीरज को छोड़कर चली गई। रिचा ने नीरज को यह नहीं बताया कि वह क्यों जा रही है, और उसने अब तक लौटकर घर नहीं देखा।

नीरज की परेशानियाँ और प्रयास

अपनी पत्नी को वापस पाने के लिए नीरज ने पुलिस और अधिकारियों के पास जाकर कई बार शिकायत की और अपनी परेशानियों का सामना किया। उसने बताया कि जब उसे पता चला कि उसकी पत्नी को कलेक्ट्रेट में लेखपाल के पद के लिए नियुक्ति पत्र मिलने वाला है, तो वह वहां उसे खोजने गया। लेकिन वहां पहुंचकर भी उसे कोई सफलता नहीं मिली। रिचा ने नियुक्ति पत्र लेकर छिपकर निकल जाने का प्रयास किया, और नीरज को उसकी झलक भी नहीं मिली।

यह भी पढ़ें: Meerut: नहाते वक़्त बहु का ससुर बनाता था न्यूड वीडियो, बहु ने थाने में दर्ज कराई FIR

महिला का बयान और विवाद

नीरज का कहना है कि उसने रिचा के लिए बहुत संघर्ष किया, और अब उसकी पत्नी के लौटने की उम्मीद के साथ वह बार-बार अधिकारियों के पास जाता है। रिचा का दावा है कि उसकी शादी नीरज से नहीं हुई है और यह सब एक बदनाम करने की साजिश है। उसने फोन पर कैमरे के सामने आने से भी मना कर दिया और कहा कि उसकी शादी नहीं हुई है, जो नीरज के दावे के विपरीत है।

नीरज ने कहा, “मैं 18 जनवरी से परेशान हूं। मेरी पत्नी रिचा सोनी, जो अब लेखपाल बन गई हैं, मुझे छोड़कर चली गई हैं। मैं उसकी तलाश में दर-दर भटक रहा हूं, लेकिन वह कहीं नहीं मिल रही। आज उसे लेखपाल का नियुक्ति पत्र मिलना था, इसलिए मैंने कलेक्ट्रेट जाकर हर जगह उसे खोजा, लेकिन वह नहीं मिली। उसने नियुक्ति पत्र लेकर छिपते हुए निकल जाने का प्रयास किया।”

पीड़ित के दावे

नीरज ने कहा, “हमने रिचा को पढ़ाने के लिए बहुत संघर्ष किया। हम प्रतिदिन 400-500 रुपए कमाते थे और कई बार कर्ज भी लिया। अब वह कहती है कि हमारी शादी नहीं हुई है। हमारे पास शादी की फोटो और प्रमाणपत्र हैं, क्या वे फर्जी हैं? हमारी शादी फरवरी 2022 में ओरछा में हुई थी। हम काफी परेशान हैं और उसकी वापसी के लिए दर-दर भटक रहे हैं।”

इस विवाद के चलते एक ओर जहां नीरज अपनी पत्नी को वापस पाने के लिए संघर्ष कर रहा है, वहीं दूसरी ओर रिचा का कहना है कि उसने नीरज के साथ शादी नहीं की और यह सब उसे बदनाम करने की साजिश है। यह मामला अभी भी अनसुलझा है और दोनों पक्षों के बीच विवाद जारी है।

यह भी पढ़ें: OYO में 4 रूम बुक कर चोर ने किया बड़ा कांड, जानकर उड़ जायेगा होश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी