KannaujKannauj

Kannauj: एक कहावत तो सबने सुनी होगी ‘पहले इंसान मरता था आत्मा भटकती थी, अब आत्मा मर चुकी है इंसान भटक रहा है ‘। उत्तर प्रदेश के कन्नोज जिले के गुरसहायगंज थाना क्षेत्र से एक वीडियो सामने आई है। वीडियो देखने के बाद आपकी रूह कांप जाएगी, आँखों में आंसू आ जायेंगे लेकिन उन लोगों के आंख में आंसू नहीं आये और नाही उनकी रूह काँपी। आजकल के लोग कितने हैवान बन चुके है। वहां पर मौजूद सभी लोग हैवान थे लेकिन इंसान के रूप में एक भगवान वहां पहुंचे, चौकी इंचार्ज मनोज पाण्डे पहुंचे और बच्ची को गोद में उठाकर उसे अस्पताल पहुँचाया।

ये वही उत्तर प्रदेश है जहाँ विधानसभा चुनाव में देश के गृहमंत्री ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा था- 16 साल की लड़की गहने लादकर स्कूटी पर रात के 12 बजे यूपी की सड़कों पर निकल सकती है कोई डर नहीं है। लेकिन अफ़सोस की बात है कि ये लड़की 16 साल की नहीं बल्कि 13 साल की है।

ये भी पढ़े: Lucknow में एक महिला ने की दुकानों में तोड़फोड़, महिला पेशे से डॉक्टर

दरअसल, कन्नौज में एक 13 साल की मासूम घर से मिटटी की एक गुल्लक खरीदने के लिए निकली थी। घंटों बाद भी घर नहीं लौटी तो घर वाले परेशान हो गए और मासूम की तलश करने लगे। फिर ख़बर आई की बच्ची खून से लथपथ गेस्ट हाउस के पीछे मिली है। बच्ची बदहवास थी मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रही थी लेकिन बेशर्म लोग झुक-झुककर वीडियो बना रहे थे।

अगर आप वीडियो बना रहे उन लोगों को हैवान कहेंगे तो सायद इसमें कुछ गलत नहीं होगा। आप सोच सकते है इंसान कितना गिर चूका है। अपराधियों ने जो अपराध किया सो किया लेकिन उनसे भी बड़े अपराधी ये हैं जो मदद को आगे नहीं आते लेकिन मोबाइल पर वीडियो बनाने में प्रतिस्पर्धा करने में लगे हैं कैसा हो गया है मेरे देश का जनमानस..जानवरों से भी बदतर।

ये भी पढ़े: Accident: अनियंत्रित बोलेरो ने बाइक को मारी टक्कर, चौकी इंचार्ज की हुई मौत

निगार परवीन ने वीडियो ट्वीट कर लिखा है कि- इस वीडियो को देख लीजिए सच में रूह कांप जाएगी, आँखों में आंसू आ जाएंगे, कितने हैवान हो चुके हैं लोग। 12 साल की मासूम खून में लथपथ पड़ी तड़प रही है, मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रही है। लोग झुक-झुककर वीडियो बना रहे हैं, गौर से इन शक्लों को देखिए।

खालिद आमिर रफ़ीक ने ट्वीट कर लिखा है कि- इस वीडियो को देख लीजिए सच में रूह कांप जाएगी, आँखों में आंसू आ जाएंगे, कितने हैवान हो चुके हैं लोग। 12 साल की मासूम खून में लथपथ पड़ी तड़प रही है, मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रही है। लोग झुक-झुककर वीडियो बना रहे हैं। गौर से इन शक्लों को देखिए , लानत इन जाइलो पर,अफसोस है इनकी ज़हनियत पर?

डॉ. तनु प्रिया तिवारी ने लिखा है- राम राज्य है यहां ये सब स्वर्ग से आए हुए बिन बेटी के बाप हैं, उत्तर प्रदेश की बेटी उतनी ही सुरक्षित है जितनी अफ्रीका से आए हुए चीतो के बीच छोड़ी गई हिरण। बस इतना कसूर है कि वो बेटी है। आखिर कब तक ऐसा होता रहेगा। पत्नी सबको सीता जैसी चाहिए, क्योंकि इनके मुंह में तो राम है दिलों रावण।

वहीं पुलिस अधीक्षक कन्नैज ने बताया कि थाना गुरसहायगंज में एक 13 वर्षीया बच्ची के घायल होने कि सूचना मिली। स्थानीय पुलिस ने इलाज के लिए तुरंत नजदीकी अस्पताल पहुँचाया। परिजनों के तहरीर पर सुसंगत धारओं में अभियोग पंजीकृत कर आगे कि कार्यवाई की जा रही है। घटना का जल्द ही खुलासा किया जायेगा।

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 अगस्त को रिलीज नहीं होगी पुष्पा 2, जानिए क्या है वजह एक पिता का परिवार में क्या दर्ज़ा होता है, आज आपको बताते हैं ! हिसार के महिला और हरियाणा ट्रैफिक पुलिस हवलदार के मजेदार चुटकुले जब सलमान की बहन ने सोनाक्षी को भाभी कहा था मजेदार चुटकुले: पुराने ज़माने में औरतें अपने पति का नाम नहीं लेती थीं…