अगर आप भी Vaishno Devi के दर्शन के लिए बना रहें है विचार, तो पढ़ लें ये जरूरी खबरअगर आप भी Vaishno Devi के दर्शन के लिए बना रहें है विचार, तो पढ़ लें ये जरूरी खबर

देशभर में आई भारी बारिश (Heavy Rain) के प्रकोप से हर कोई परेशान है। वहीं हिमाचल (Himachal) और उत्तराखंड (Uttrakhand) जैसे कई राज्यों में बारिश ने तबाही मचाई हुई है। वहीं अब जम्मू (Jammu) स्थित वैष्णो देवी (Vaishno Devi) जाने वाले लोगों के लिए बड़ी खबर सामने आ रही है।

जम्मू (Jammu) के कटरा (Katra) में त्रिकुट पर्वत (trikuta mountain) पर विराजमान माता वैष्णो देवी (Mata Vaishno Devi) के दर्शन करने के लिए मुश्किल रस्तों से गुजरना पड़ता है। ऊंची चढ़ाई भक्तों को पस्त कर देती है। वहीं ऐसे में अगर कहीं बारिश हो रही हो तो फिर मुसीबत और ज्यादा बढ़ जाती है। बता दें कि, इस समय वैष्णो देवी में कुछ ऐसी ही मुसीबत के हालात पैदा हो रखे हैं। कटरा में भारी बारिश से माता वैष्णो देवी की यात्रा प्रभावित हो रही है। भारी बारिश के चलते वैष्णो देवी यात्रा मार्ग के रास्तों से निकलना दूबर हो रहा है।

यह भी पढ़ें:- Bigg Boss OTT 2 में फेमस यूट्यूबर Dhruv Rathi की वाइल्ड कार्ड एंट्री, जानें कौन है ये सोशल मीडिया स्टार

श्राइन बोर्ड ने लगाई कई व्यवस्थाओं पर रोक

दरअसल, बारिश का पानी पहाड़ों से तेज बहाव में रास्तों पर नीचे की ओर आ रहा है। जहां इसी स्थिति को देखते हुए श्राइन बोर्ड ने कई व्यवस्थाओं को रोक दिया है। श्राइन बोर्ड ने माता वैष्णो देवी के दर्शन को जाने वाले नए रास्ते (हिमकोटी मार्ग) पर रोक लगा दी है। क्योंकि इस मार्ग पर बारिश के कारण भूस्खलन के खतरे की पूरी संभावना है। साथ ही बताया जा रहा है कि, अब भक्तों को गुफा मंदिर (अर्द्धकुमारी) के दर्शन नहीं हो पाएंगे। इसके साथ ही खराब मौसम के चलते हेलिकॉप्टर सेवा भी निरस्त कर दी गई है। फिलहाल मां वैष्णो के भक्त पुराने रास्ते के जरिए धीरे-धीरे कर माता के दर्शन करने ऊपर मुख्य गुफा में जा सकते हैं।

43 वर्षों में सबसे भारी बारिश

कहा जा रहा है कि कटरा में पिछले 43 वर्षों में सबसे भारी बारिश हुई है। ऐसी बारिश जिससे माता वैष्णो देवी का धाम भी प्रभावित हो रहा है। बताते हैं कि, कटरा में बीते 24 घंटे में 315.4 मिमी बारिश रेकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग के मुताबिक, ‘यह 1980 के बाद से सबसे भारी बारिश है। इससे पहले 31 जुलाई, 2019 को कटरा में 292.4 मिमी सबसे ज्यादा बारिश हुई थी। बारिश के चलते कटरा में दूर से आने वाले माता के भक्तों को तो मुश्किल हो ही रही है। इसके साथ ही यहां आम जनजीवन पर भी काफी असर पड़ा है। बहराल कुछ भी हो माता के दर्शन की ललक भक्तों को हिम्मत नही हारने देती।

यह भी पढ़ें:- उत्तराखंड हादसा: Namami Gange Project में करंट फैलने से 15 लोगों की मौत, चमोली के दारोगा भी शामिल

माता वैष्णो देवी करती हैं चमत्कार

हर कोई माता वैष्णो देवी धाम जाकर मैया के दर्शन कर आशीर्वाद पाना चाहता है, पर माता हर किसी को अपने पास नहीं बुलातीं। जिन्हें बुलावा आता है वही मां के पास जा पाता है। फिलहाल माता वैष्णो देवी जाकर मां के दर्शन करने की उत्सुकता और उमंग लोगों में बहुत रहती है। यही कारण है कि हर दिन हजारों की तादाद में लोग माता वैष्णो देवी धाम पहुंचते हैं और श्राइन बोर्ड के नियमों के साथ माता के दर्शन के लिए यात्रा शुरू करते हैं। माता वैष्णो देवी भी सबकी मुरादें पूरी करती हैं, उनके दुःख-दर्द दूर करती हैं।

https://youtu.be/tZEBAvIpZ-E

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी