Deoria ITIDeoria ITI

Deoria ITI: पुलिस से न्याय की गुहार लगाकर थक चुकी दिव्या ने अब न्यायालय की शरण ले लिया है, न्यायालय के आदेश पर राजकीय आईटीआई के दो प्रधानाचार्य व उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के पुलिस से न्याय की गुहार लगाकर थक चुकी दिव्या ने अब कोर्ट की शरण लिया है, न्यायालय के आदेश पर (Deoria ITI) राजकीय आईटीआई के दो प्रधानाचार्य समेत,उद्योग विकास संस्था के अधिकारी,तीन एमआईएस मैनेजर समेत आठ लोगों पर मुकदमा दर्ज हो गया है, इन सभी पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा 120 बी व 406 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़े: Deoria: उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान से सम्मानित हुए एआरपी Dr. Pankaj Shukla

दरअसल, उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के अंतर्गत (उद्योग विकास संस्थान) का देवरिया जिले के बरहज में दिव्या मद्धेशिया पुत्री अशोक मद्धेशिया ने अधिकारियों से सम्पर्क कर सेन्टर खोलीं थीं। दिव्या मद्धेशिया ने बताया की उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन का सेन्टर खोलकर बरहज में मैंने सैकड़ों बच्चों को पढ़ा कर ट्रेनिंग कराई, पर मेरे साथ उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के व अन्य अधिकारियों ने बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा किया, इन लोगों ने साज़िश रचकर मेरे बीस लाख रुपए ठग लिए, इनकी करतूतों से सैकड़ों छात्रों का भविष्य अंधकार में डूब गया है, मैंने इसकी शिकायत पहले अपर मुख्य सचिव से की थी।

ये भी पढ़े: Barhaj/Deoria: विधुत विभाग पर ग्राम वासियो ने किया प्रदर्शन

जिस पर देवरिया के तत्कालीन एमआईएस मैनेजर दीपक कुमार पर भ्रष्टाचार की जांच बैठी थी,अपर मुख्य सचिव ने जिलाधिकारी अमित किशोर को जांच करने का आदेश दिया, जिसमें सीडीओ की अध्यक्षता बनी समिति को जांच मिली थी, जिसमें दीपक कुमार को बर्खास्त कर दिया गया, फिर भी लोग आज तक हमारे पैसे का भुगतान नहीं किए, इसके बाद मैंने इसकी शिकायत जिले से लेकर उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन अन्य अधिकारियों से की, यहां तक कि तत्कालीन क्षेत्रीय भाजपा विधायक सुरेश तिवारी से भी शिकायत की थी, पर केवल आश्वासन के कुछ नहीं हुआ, जिससे थक हार कर मैं पुलिस विभाग से इस मामले में एफ आई आर दर्ज करने के लिए कई बार प्रार्थना पत्र दी पर मेरा एफ आई आर दर्ज नहीं किया गया।

जिस पर थक हार कर मैंने न्यायालय की शरण ली, अब 20 जुलाई 2022 को कोर्ट ने थानाध्यक्ष बरहज जय शंकर मिश्र को विपिन कुमार (पूर्व प्राचार्य राजकीय आईटीआई Deoria ITI), गोविन्द कुमार (पूर्व प्राचार्य राजकीय आईटीआई देवरिया), दीपक कुमार (एमआईएस मैनेजर) देवरिया, संजीव बरनवाल (एमआईएस मैनेजर) देवरिया, साकेत सिंह (एमआईएस मैनेजर) देवरिया, अमर अग्रवाल (उद्योग विकास संस्थान) देवरिया,सुमन्त तिवारी सलेमपुर देवरिया,इंजमार नवलपुर सलेमपुर देवरिया, के ऊपर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया, कई दिनों तक इस आदेश को पुलिस विभाग ने दबाए रखा रखा था,अब इन पर एफ आई आर दर्ज हो गया है,इन सभी पर साजिश कर विश्वास हनन करने की धारा धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है अब इसकी इसमें क्या होता है यह तो वक्त ही बताएगा,क्योंकि अभी से लोगों ने मेरे ऊपर दबाव डालना शुरू कर दिया है।

देवरिया से गोविन्द मौर्य की रिपोर्ट

By Javed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

41 की भीड़ में 14 ढूँढना है, सिर्फ जिनियस ही ढूंढ पाएंगे AC का इस्तेमाल करने वाले हो जाओ सावधान, इन बातों का रखे ख्याल घूँघट की आड़ में भाभियों ने हरियाणवी गाने पर मचाया धमाल, वीडियो देख लोग हुए दीवाने सिर्फ 1% लोग ‘बी’ के समुद्र के बीच छिपी 8 को पहचान पायेंगे गरीब बना देंगी फाइनेंस से जुड़ी कुछ आदतें, आज ही बदल डालें