EWS Machine: कानपुर के उन लोगों के लिए अच्छी जिनके पास राशन कार्ड है। अक्सर कई लोग कम राशन देने की लगातार शिकायत कर रहे थे। ऐसे में इन कार्ड धारकों की सहूलियत और इस समस्या को दूर करने के लिए जनपद के सभी कोटेदारों की दुकानें ई-वेइंग स्केल यानी (EWS) से जोड़ दी गईं हैं। इस मशीन को कांटे से जोड़ दिया गया है। EWS के सॉफ्टवेयर में कार्ड धारक की जैसे ही यूनिट दर्ज होगी। वैसे ही कार्ड धारक के अंगूठा लगाने पर यह काटा दर्ज यूनिट के मुताबिक तौल करेगा। इस मशीन के शुरू होने से राशन में कटौती होने की कोई संभावना नहीं है। वहीं, इससे कार्ड धारकों को उनके राशन की पूरी मात्रा भी मिल सकेगी।

ई-पोस मशीन से होगी दूर परेशान

दरअसल, बीते कुछ समय से कार्ड धारकों द्वारा शिकायत की जा रही थी, कि कोटेदार प्रति यूनिट 5 किलोग्राम राशन की मात्रा देने के बजाय कार्ड धारकों को तीन या चार किलोग्राम दे रहे हैं। जिसके बाद परेशानी को हल करने के लिए ई-पोस मशीन को विकल्प के रूप में सामने लाया गया।जिसका, फीडबैक भी काफी ज्यादा अच्छा देखने को मिला। इस मशीन को कांटे के साथ आपस में जोड़ दिया गया है। इस मशीन में कार्डधारक की डिटेल और उसका अंगूठा लगाते ही उसे किस चीज की कितनी मात्रा दी जानी है, वह ऑटोमेटिक दिखने लगेगा।

यह भी पढ़े:Lucknow fire: जेल से कोर्ट ले जा रही वैन में लगी आग, 9 कैदियों समेत 14 पुलिसकर्मी ने कूद के बचाई जान

जब तक काटे से तौल नहीं होगा पूरा…तब तक…

इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है, कि कार्ड धारक को जितने यूनिट देना है। उतने यूनिट की जब तक काटे से तौल नहीं हो जाएगी, तब तक ये मशीन आगे ऑपरेट नहीं करेगी। जिला पूर्ति अधिकारी राकेश कुमार ने बताया, कि जनपद के सभी 1375 दुकानों पर ईडब्ल्यूएस मशीन पहुंचा दी गई है। उन्होंने बताया कि अब कोटेदार कार्ड धारकों को कम राशन नहीं दे पाएंगे। क्योंकि ई-पोस मशीन और ईडब्ल्यूएस मशीन को आपस में जोड़ दिया गया है। इससे कार्ड धारकों को राशन का वितरण किया जा रहा है। इतना ही नहीं, मशीन में कार्ड धारक का ब्यौरा डालते ही यूनिट के अनुसार उसे शत प्रतिशत राशन दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि, जनपद में 747474 एपीएल कार्ड धारक हैं। जबकि, 63 हजार से अधिक अंत्योदय कार्ड धारक हैं, जिन्हें राशन का वितरण किया जा रहा है।

अधिकारी ने यह भी बताया कि शुरुआती दौर में थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। क्योंकि इस मशीन में सर्वर की सबसे ज्यादा समस्या आ रही है। जिस वजह से कार्ड धारकों को राशन वितरण करने में थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, कुछ ही समय में यह समस्या दूर हो जाएगी।

कार्ड धारकों का क्या है कहना

कार्ड धारक अंकित ने बताया कि, इस मशीन की मदद से जो राशन की कटौती होती थी उससे अब निजात मिल रही है। उन्हें पूरा राशन दिया जा रहा है। लेकिन, मशीन में सर्वर की समस्या की वजह से थोड़ी परेशानी जरूर हो रही है। वहीं, कार्डधारक प्रखर ने बताया कि सरकार की ओर से यह अच्छी शुरुआत की गई है। इससे जो कोटेदार मनमानी कर राशन में कटौती करते थे, उससे अब लोगों को निजात मिलेगी। लोगों को पूरी मात्रा में अब राशन मिल सकेगा।

यह भी पढ़े: UP Incident: पलक झपकते हुआ सब खाक, मां और ढाई माह का बच्चा जिंदा जले, पिता भी झुलसा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मिर्जापुर की सलोनी भाभी नेहा सरगम बनी नेशनल क्रश कौन हैं ट्रेनी IAS ऑफिसर पूजा खेडकर ? जो इस वक़्त विवादों में हैं ? ब्रेड के पैकेट पर लिखी हो ये बातें तो भूलकर भी ना खाएं कौन हैं मिर्जापुर में सलोनी भाभी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री नेहा सरगम फिर युवाओं के दिल पर राज करने आ रही है तृप्ति डिमरी